जनवरी से अप्रैल 2016 तक हरिद्वार में अर्धकुम्भ

0
472

जनवरी से अप्रैल 2016 तक हरिद्वार में अर्धकुम्भ
देहरादून मुख्यमंत्री हरीश रावत ने केंद्रीय वित्त मंत्री अरूण जेटली को पत्र लिखकर अगले वर्ष हरिद्वार में आयोजित होेने वाले अर्धकुम्भ के लिए उत्तराखण्ड सरकार को एकमुश्त 500 करोड़ रूपए की सहायता दिए जाने का अनुरोध किया है। जनवरी से अपे्रल 2016 में हरिद्वार में अर्धकुम्भ की महत्ता का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री श्री रावत ने अपने पत्र में कहा है कि इसमें 7 से 8 करोड़ श्रद्धालुओं के आने की सम्भावना है। हरिद्वार व इलाहाबाद के कुम्भ व अर्धकुम्भ का गंगा व त्रिवेणी के कारण दूसरे स्थानों की तुलना में अधिक महत्व होता है। राज्य सरकार सुरक्षित व सुविधापूर्ण अर्धकुम्भ के लिए प्रतिबद्ध है। इस बार राज्य सरकार का फोकस स्थाई प्रकृति के आधारिक संरचना के विकास पर है। अर्धकुम्भ के आयोजन के लिए 500 करोड़ रूपए की योजना तैयार की गई है। इसमें से 400 करोड़ रूपए स्थाई प्रकृति के कार्यों व 100 करोड़ रूपए अर्धस्थाई व अस्थाई जनसुविधाओं व सेवाओं के लिए रखा गया है। राज्य सरकार द्वारा वर्तमान में उपलब्ध अपने सीमित संसाधनों से अर्धकुम्भ के लिए इतनी बड़ी राशि हस्तांतरित करने से राज्य के बजट पर काफी दबाव पड़ेगा। फिर भी राज्य सरकार ने अर्धकुम्भ के महत्व व संवेदनशीलता को देखते हुए लगभग 350 करोड़ रूपए की योजनाओं को स्वीकृति दी है। इनमें बहुत सी पूर्ण भी होने वाली हैं।
मुख्यमंत्री श्री रावत ने अपने पत्र में कहा है कि इस संबंध में पूर्व में भी अनेक बार केंद्र सरकार से अनुरोध किया गया है। यहां तक नीति आयोग ने भी राज्य को अर्धकुम्भ के लिए 166 करोड़ 67 लाख रूपए दिए जाने की संस्तुति की थी। परंतु यह राशि भी राज्य को अवमुक्त नहीं की गई। अर्धकुम्भ की महत्ता को देखते हुए केंद्र सरकार प्राथमिकता से उत्तराखण्ड को 500 करोड़ रूपए की केंद्रीय सहायता प्रदान करे ताकि सभी आवश्यक निर्माण कार्य व तैयारियां समय से की जा सके।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments