जनता दरबार बहुद्देशीय शिविर

0
303

जनता दरबार बहुद्देशीय शिविर

ऊखीमठ ब्लाक के राजकीय इन्टर कालेज ऊखीमठ में जनपद प्रभारी कृषि मंत्री राजेन्द्र सिंह भण्डारी की अध्यक्षता में आयोजित जनता दरबार बहुद्देशीय शिविर में आपदा सम्बन्धी, सड़क, शिक्षा, विद्युत, पेयजल संबंधी 71 फरियादियों ने अपनी शिकायत दर्ज कराई। जिनमें से अधिकांश शिकायतों का मौके पर ही निराकरण किया गया। उन्होंने अधिकारियों को समस्याओं को तयसयम सीमा के भीतर शीघ्र निस्तारण के निर्देश दिये तथा शिविर में उपस्थित लोगों से शिविर का लाभ उठाने का आहवान किया। कहा कि जनता दरवार का उद्देश्य मौके पर जनसमस्याओं का निराकरण करना होता है। इसी के तहत शिविर आयोजित किया गया है। कृषि मंत्री श्री भण्डारी ने जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी को आपसी समन्वय से विकास कार्य को गति प्रदान करें, ताकि लोगों को योजनाओं का लाभ समय पर मिल सके। उन्होंने निर्माण सम्बन्धी अधिकािरयों को स्पष्ट निर्देश दिये कि सड़क निर्माण की सैद्धाान्तिक स्वीकृत मिलते ही टेण्डर प्रक्रिया भी शुरू कर दी जाय। इस अवसर पर जिलाधिकारी डाॅ राघव लंगर ने कहा कि सरकार जनता के द्वार कार्यक्रम के तहत इस प्रकार के जनकल्याण शिविर आयोजित कर जनता की समस्याओं को प्रशासन एवं जनप्रतिनिधि द्वारा एक मंच पर फरियादियों की समस्याओं का समाधान कराना है। उन्होंने अधिकारियों को तय समय सीमा के भीतर शिकायतों का समाधान करने को कहा। उन्होने ग्रामीण स्तर पर बनी पेयजल समितियों के सम्बन्ध में ग्रामीणाों से कहा कि किसी भी पेयजल योजना को विभाग से हस्तगत न किया जाय। शिविर में मुख्य रूप रूप से आपदा प्रभावितों द्वारा आर्थिक सहायता से संबंधित समस्याएं क्षेत्रीय जनता द्वारा रखी गई। शिविर में ग्रामीणों द्वारा वर्ष 2013 की केदारनाथ दैवीय आपदा से प्रभावित 202 वृद्ध मातापिता को आर्थिक सहायता की समस्या उठाई गयी। जिनके पुत्रों की मृत्यु आपदा के दौरान हो गयी थी। प्रभावितों का कहना था कि माता‘पिता को भी भरणपोषण हेतु आर्थिक सहायता मिलनी चाहिए। वर्ष 2013 के आपदा से प्रभावित कुण्ड गैठी के कुछ लोगो को एलएनटी का मुआवजा से वंचित रहने के समस्या पर जिलाधिकारी द्वारा अवगत कराया गया कि पात्र परिवारों को मुआवजा दे दिया जायेगा। इस सम्बन्ध उन्होने तहसीलदार ऊखीमठ को एक सप्ताह के भीतर जांच कर आख्या उपलब्ध कराने के निर्देश दिये है। इस अवसर पर व्यापार संघ द्वारा पर्यटन विभाग की पर्यटन आवास योजना के अन्तर्गत आपदा प्रभावित व्यापारियों को लाभान्वित करने को कहा। इस सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने जिला पर्यटन अधिकारी को आपदा प्रभावित व्यापारियों के योजना से लाभान्वित हेतु प्रोजेक्ट बनवाकर सचिव पर्यटन को प्रेषित करने को कहा। यूजीबीएनएल द्वारा मधु गंगा नदी पर टनल बनाये जाने के कारण क्षेत्र के लोगो के भवनों पर दरार पडने तथा खतरा पैदा होने के सम्बन्ध में प्रभारी मंत्री ने तहसीलदार ऊखीमठ को अविलम्ब प्रभाव से यूजीबीएल से कार्यवाही करने को कहा। इसके अतिरिक्त ग्रामीणों द्वारा गौरीकुण्ड से केदारनाथ मोटर मार्ग निर्माण, सल्य तुलंगा मोटर मार्ग का डामरीकरण, बंदरों का आंतक आदि समस्या शिविर में रखी गयी। इसे पूर्व प्रभारी मन्त्री द्वारा शिविर में विभिन्न विभागों द्वारा लगाये गये स्टालो का निरीक्षण भी किया गया। स्वास्थ्य विभाग द्वारा मरीजों का स्वास्थ परीक्षण के साथ ही उद्यान विभाग द्वारा औद्यानिक औजार एवं बीज बेचे गये। जबकि कृषि विभाग द्वारा भी कृषि यंत्रों की बिक्री की गई। वहीं पशुपालन विभाग द्वारा पशुपालकों के दवाईयां वितरित की। शिविर में विभिन्न विभागों द्वारा स्टाल लगाकर जनता को विभागीय योजनाओं की जानकारी दी गई। इस अवसर पर ब्लाक प्रमुख सन्तलाल, नगर पंचायत अध्यक्ष श्रीमती रीता पुष्पान, जिला पंचायत सदस्य श्रीमती संगीता देवी, रजुली देवी, एसडीएम देवमूर्ति यादव, मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ आर0पी0 बडोनी सहित क्षेत्र प्रधान व क्षेत्रीय जनता उपस्थित थी।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments