आर्मी जवानों के शोषण का खुलासा अधिकारियो में हड़कंप

0
1716

आर्मी जवानों के शोषण का खुलासा अधिकारियो में हड़कंप 

indian-army-officers-miss-behave-soldiar

दिल्ली देश की सीमाओं पर अपने जान की परवाह किये बिना देश की रक्षा करने का संकल्प लेकर आर्मी में भर्ती होने वाले जवानों के साथ शोषण का काला सच उजागर हो गया है ऐसा नहीं है की किसी एक आर्मी जवान के साथ ये सब हो रहा हो आर्मी में भर्ती से लेकर पोस्टिंग तक शोषण की ये दास्ताँ बहुत पुरानी है लेकिन भारतीय सेना में अनुशाषन का पालन किये जाने की बातो के कारन शोषण के लिए मजबूर हज़ारो सेना के जवान अपने अधिकारियो के खिलाफ कोई कदम नहीं उठा प् रहे ये हाल तब हो रहा है जब देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश की सीमाओं पर जवानों को लेकर उनकी तारिफ करते नहीं थक पाते भड़ास फॉर इंडिया आर्मी में हो रहे शोषण की इस कहानी को इन जवानों के साथ हो रहे शोषण को जनता का सवाल उठा कर सामने लाने का प्रयाश कर रहा है

आर्मी में वर्तमान समय में लाखो जवान भारतीय सेना में रह कर देश की सीमाओं पर अपनी जान जोखिम में डाल कर रक्षा कर रहे है ।लेकिन इन जवानों के साथ शोषण की दास्ताँ कोई नहीं सुन रहा भारतीय सेना के मंत्रालय में भेजे गए एक शिकायती पत्र के बाद अब सेना के जवानों के खिलाफ आर्मी अफसरों का शोषण उजागर हुआ है। यही नहीं जवानों के साथ बूट पालिश से लेकर गाड़ी को साफ किये जाने घर के कुत्ते को घूमने से लेकर कई तरह के आरोप लगाए गए है शोषण की ये कहानी कोई नयी नहीं है आर्मी में सामिल होने वाला हर जवान इस शोषण का शिकार होता रहा है। सवाल ये उठ रहा है की जब भारतीय सेना में अनुशाषन का डंडा उठा कर एक जवान को सजा मिल सकती है तो जो अधिकारी अपने जवान का शोषण कर रहे है तो उनके खिलाफ कारवाही क्यों नहीं हो सकती।
आर्मी के जानकर बताते है की आर्मी में लगातार शोषण के मामले बढ़ रहे है जिन के कारण कई जवान ख़ुदकुशी जैसे कदम भी समय समय पर उठाते रहे है। लगातार इस तरह के बढ़ते मामले भारतीय सेना के लिए सही नहीं अपने अधिकारी को सलाम ठोकने वाला जवान आखिर कब तक इस तरह के शोषण का शिकार होता रहेगा इस मामले को लेकर कोई भी सेना का अफसर अपनी कोई बात नहीं कहा रहा है।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments