प्रेमी ने प्रेमिका की कीमत लगायी 2 लाख, उसके बाद ऐसा हुआ जो मच गयी सनसनी

0
123

प्रेमी ने प्रेमिका की कीमत लगायी 2 लाख, उसके बाद ऐसा हुआ जो मच गयी सनसनी

दिल्ली की बदनाम गलियो का सच हर कोई जानता है लेकिन क्या कभी अपने ये भी सुना है जिसको वो प्यार करती है उसने ही उसका सौदा कर उसकी कीमत लगवा डाली लेकिन कभी कभी ऐसे पुलिस वाले भी होते है जो मदद के लिए सामने आ जाते है मानव तस्करी के एक मामले को लेकर कमला मार्केट थाने के एसएचओ सुनील कुमार ढाका ने एक बार फिर अपनी क़ाबलियत का उदहारण पेश किया है नाबालिक को न सिर्फ बदनाम गलियों में कैद होने से बल्कि उसकी जिंदगी को एक नया जीवन दान भी दिया है पुलिस विभाग में उनके इस काम को लेकर अधिकारी भी गर्व से अपना सर ऊंचा करते नज़र आ रहे है

दिल्ली में मानव तस्करी के खुलासे का अजब मामला सामने आया है। दिल्ली की बदनाम गलियों में एक युवक ने अपनी प्रेमिका को ऐसे दलाल को बेच दिया, जो दरअसल पुलिसवाला निकला। फिर पुलिस ने पूरा जालकर न केवल आरोपी युवक को गिरफ्तार किया, बल्कि उसकी प्रेमिका को भी मुक्त करा लिया।

पुलिस ने जिस लड़की को धोखबाज प्रेमी के चंगुल से छुड़ाया है वह नाबालिग है। जानकारी के मुताबिक, किशोरी (15) ट्रेन में हुई मुलाकात के बाद युवक को दिल दे बैठी। युवक ने प्रेम के जाल में फंसाकर युवती से कैब में दुष्कर्म किया।दिल-ओ-जान से प्यार करने वाली लड़की इस बात से बेखबर थी कि उसका प्रेमी उसे धोखा देने वाला है। पीड़िता के मुताबिक, उसका प्रेमी रुपये के लिए दोस्त के साथ उसे जीबी रोड इलाके में कोठे पर बेचने के लिए पहुंच गया। इस दौरान उसे प्रेमी के शातिर इरादों की भनक तक नहीं थी।

युवक ने अपनी तथाकथित प्रेमिका के साथ दुष्कर्म के बाद ही तय कर लिया था कि वह लड़की को बेचकर उसकी अच्छी कीमत वसूलेगा। अपने मकसद को पूरा करने के लिए वह जीबी रोड पहुंच गया। यहां उनका सामना सादे कपड़े में तैनात पुलिसकर्मियों से हुआ। आरोपितों ने उन्हें दलाल समझ कर दो लाख रुपये में किशोरी को बेचने की बात कही।

पुलिस ने तत्काल पूरा माजरा समझ लिया और पूरे मामले के खुलासे का फैसला किया। यही वजह है कि कमला मार्केट थाने के एसएचओ सुनील कुमार ढाका ने कोठा मालिक बनकर 1.80 लाख रुपये में लड़की का सौदा किया। जब आरोपित सोमवार रात लड़की को लेकर अजमेरी गेट इलाके में पहुंचे तो पुलिस टीम ने दोनों युवकों को दबोचकर पीड़िता को मुक्त कराया। बदमाशों की पहचान मुज्जफरनगर (उत्तर प्रदेश) निवासी परवेज और शोएब के रूप में हुई है।

परवेज एक बहुराष्ट्रीय कंपनी में कैब चलाता था। शोएब दिल्ली में रहकर सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी कर रहा था। पुलिस ने किशोरी को बाल सुधार गृह भेजकर इसकी सूचना उसके परिजनों को दे दी है। दोनों स्नातक हैं।आरोपितों के खिलाफ पॉक्सो एक्ट और महिला तस्करी की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया गया। पुलिस परवेज को रिमांड पर लेकर और तथ्य जुटा रही है। कमला मार्केट थाना क्षेत्र स्थित जीबी रोड रेड लाइट इलाके में मानव तस्कर सक्रिय हैं। वे नौकरी और अन्य बहाने से किशोरियों व महिलाओं को दूसरे राज्यों से लाकर कोठे पर देहव्यापार के लिए बेच देते हैं। कमला मार्केट थाना पुलिस ने संदिग्धों पर नजर रखने के लिए वहां पुलिसकर्मियों को तैनात कर रखा है।

यूं हुआ पूरा मामले का खुलासा :

पुलिस के मुताबिक सोमवार को हवलदार महावीर, एएसआइ सर्वेश और सिपाही सुंदर सादे कपड़ों में जीबी रोड इलाके में गस्त कर रहे थे। इसी दौरान दो युवकों ने सुंदर को दलाल समझ कर उनसे किशोरी को बेचने की बात की। सुंदर ने आरोपित परवेज और शोएब से कहा कि इसके लिए कोठा मालिक से बात करनी होगी। उन्होंने फोन से युवकों की बात कमला मार्केट के एसएचओ सुनील ढाका से कराई।

सुनील ढाका ने आरोपितों के चंगुल से किशोरी को मुक्त कराने के लिए उन्हें विश्वास में लिया। आरोपित किशोरी के दो लाख रुपये मांग रहे थे, लेकिन सौदा 1.80 लाख रुपये में तय हुआ। किशोरी को लेकर अजमेरी गेट की ओर आने को कहा गया। सोमवार रात वहां आते ही एसएचओ ने सूझबूझ दिखाते हुए वहा सादे कपड़े में तैनात पुलिसकर्मियों की मदद से परवेज और शोएब को दबोच लिया।

परवेज से पूछताछ में पता चला कि उसकी मुलाकात किशोरी से शामली (उत्तर प्रदेश) इलाके में ट्रेन में हुई थी। इसके बाद वह पीड़िता को बहलाकर लोनी इलाके में ले गया और उसके साथ दुष्कर्म किया। बाद में रुपये के लिए वह अपने दोस्त की मदद से उसे बेचने के लिए जीबी रोड पहुंचा।
परवेज किशोरी को बेचने के बाद मिलने वाले रुपयों से कार खरीदने, जबकि शोएब मौजमस्ती के लिए बैंकॉक जाना चाह रहा था। पुलिस ने कैब जब्त कर ली है। कमला मार्केट के एसएचओ कोठा मालिक बनकर गत वर्ष भी दो जिंदगियों को बर्बाद होने से बचा चुके हैं।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments