हरीश समर्थक राजेंद्र साह को ज़ीरो कहने पर हुआ विवाद

0
401

हरीश समर्थक राजेंद्र साह को ज़ीरो कहने पर हुआ विवाद

देहरादून पूर्व काबीना मंत्री और पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष यशपाल आर्य की बेवफाई को मुख्यमंत्री हरीश रावत और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष किशोर उपाध्याय के समर्थक कार्यकर्ता पचा नहीं पा रहे हैं। उत्तेजित कार्यकर्ताओं ने प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय के कक्ष में लगी पूर्व प्रदेश अध्यक्ष यशपाल आर्य की तस्वीर पर अपना गुस्सा उतारते हुए उसे पटक दिया और फिर कूड़े में फेंक दिया।इस मामले को लेकर किशोर ने कारवाही किये जाने की बात कही है

हालांकि, इस दौरान कार्यालय में अध्यक्ष मौजूद नहीं थे। पार्टी के प्रदेश मुख्यालय में अल्पसंख्यकों को टिकट में तवज्जो नहीं दिए जाने का मुद्दा उठाना पार्टी के एक नेता का भारी पड़ा। मुख्यमंत्री के समर्थकों ने इस नेता पर भी जमकर भड़ास निकाली। इसके चलते प्रदेश मुख्यालय में शोरगुल होता रहा।पूर्व मंत्री यशपाल आर्य लंबे अरसे तक प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष भी रहे हैं। प्रदेश संगठन के मुखिया के नाते प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में उनका फोटो भी लगा हुआ था। बीते रोज आर्य ने कांग्रेस को टा-टा कर भाजपा का दामन थाम लिया था। बीते रोज ऋषिकेश में कांग्रेस उपाध्यक्ष के दौरे के चलते पार्टी कार्यकर्ता व्यस्त रहे।

यशपाल आर्य की तस्वीर पर निकला तरुण पन्त का गुस्सा

लिहाजा उन्होंने यशपाल आर्य के चित्र पर गुस्सा उतारा। मुख्यमंत्री हरीश रावत और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष किशोर उपाध्याय जब पार्टी के सभागार में मीडिया से मुखातिब थे और आर्य समेत कांग्रेस से बगावत करने वाले नेताओं पर हमले बोल रहे थे तो उस वक्त प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के कार्यालय में कार्यकर्ताओं ने आर्य की तस्वीर को निकालकर जमीन पर पटक दिया।

इसके बाद इस तस्वीर को कूड़े में फेंक दिया गया। हालांकि, मीडिया की ओर से आर्य की तस्वीर के साथ ऐसा सलूक किए जाने के बारे में पूछे गए सवाल पर प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय और मुख्यमंत्री हरीश रावत दोनों ने ही अनभिज्ञता जाहिर की और इसे गलत बताया।कांग्रेस से बगावत के चलते मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के समर्थक खासे खफा दिखाई दिए। प्रदेश मुख्यालय में अल्पसंख्यक समुदाय के एक नेता ने भी पार्टी में उपेक्षा का मुद्दा उठाया तो वे भड़क गए। उन्होंने उक्त नेता को खूब खरी-खोटी सुनाई।

बहुगुणा, सतपाल और आर्य पर फूटा हरीश का गुस्सा

मुख्यमंत्री हरीश रावत का गुस्सा पूर्व मंत्री यशपाल आर्य के साथ ही पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा, पूर्व केंद्रीय मंत्री सतपाल महाराज व उनकी धर्मपत्नी व पूर्व मंत्री अमृता रावत पर भी फूटा।उन्होंने भाजपा के नारे, ‘जब से आए बहुगुणा, भ्रष्टाचार बढ़ा सौ गुना’ के साथ पॉलीहाउस घोटाले में एक दंपत्ति की लिप्तता का मामला उठाकर भाजपा को घेरा। सहकारी बैंक में नोटबंदी के दौरान बड़ी संख्या में नोट जमा होने का हवाला देते हुए उन्होंने पूर्व सहकारिता मंत्री यशपाल आर्य पर निशाना साधा कि ‘कुछ तो मजबूरियां रही होंगी।’ उन्होंने भाजपा पर सीबीआइ और ईडी के जरिए दबाव बनाने का अंदेशा भी जताया।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments