विकलांग दौड़ते है यहाँ, लेकिन इनको नहीं आती शर्म देखे पूरी खबर का सच

0
166

विकलांग दौड़ते है यहाँ, लेकिन इनको नहीं आती शर्म देखे पूरी खबर का सच Handicap RUN DEHRADUN BUT GOVERMENT OFFICARS NOT RUN

देहरादून विकलांग लोगो को देहरादून में प्रमाण पत्र बनाये जाने के लिए कई तरह की परेशानी से दो चार होना पड़ रहा है दूर दराज से आने वाले विकलांग लोगो को देहरादून में बुधवार को बुलाया जाता है जहा पर कैंप लगा कर उनके विकलांग प्रमाण पत्र बनाये जाते है स्वस्थ विभाग इस काम को अंजाम देता है लेकिन इसकी हकीकत अगर देहरादून में लगाए जाने वाले कैंप पर देखि जाये तो आपकी भी पैरो से जमीन निकल जाएगी आखिर दून अस्पताल जिसकी जिम्मेदारी विकलांग प्रमाण पत्र बनाये जाने की है आखिर वो क्यों आखो पर काली पट्टी बांध कर बैठा हुआ है

विकलांग लोगो को यहाँ देहरादून बुलाकर कई दिनों तक चक्कर लगवाए जाते है लेकिन जिम्मेदार डॉक्टर से लेकर कर्मचारी तक उनको मानवीय रूप से मदद नहीं करते इतना ही नहीं सरकारी कर्मचारी उनको परेशान कर कई दिनों तक चक्कर लगवाते है इस बारे में जब मोके पर देखा गया तो कई विकलांग लोगो ने बताया की उनके प्रमाण पत्र को लेकर काफी समय से उनकी कोई मदद नहीं की जाती और कई दिनों तक चक्कर लगवाए जाने के कारण उनको परेशानी होती है यही नहीं उन्होंने आरोप लगाया की यहाँ पर कर्मचारी अपनी मर्ज़ी के हिसाब से काम करते है सुबह से विकलांग दून अस्पताल में दूर से पहुंचे जाते है लेकिन देहरादून के सीएमऔ ऑफिस से कर्मचारी दून अस्पताल में नहीं पहुंच पाते रोज़ाना इसी तरह की परेशानी से विकलांग प्रमाण पत्र बनाये जाने वाले लोगो के साथ यही होता है

देहरादून के सीएमऔ डॉक्टर पंत ने बताया की इस तरह के मामलो को लेकर विकलांग प्रमाण पत्र को लेकर उनको किसी तरह की परेशानी नहीं हो इसको लेकर कोई कमी नहीं आने दी जाएगी उन्होंने दून अस्पताल में कर्मचारी देरी से आने के मामले को गंभीर बताया और कहा की इस मामले की जांच के साथ यहाँ विकलांग प्रमाण पत्र बनवाने वाले लोगो के लिए सुबह दस बजे के बाद पंजीकरण किये जाने का समय रखा गया है और दोपहर दो बजे तक पंजीकरण वाले लोगो के प्रमाण पत्र बनाये जायेगे

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments