गाजियाबाद में हुआ बड़ा हादसा फैक्टरी में भीषण आग से 13 लोग जिंदा जले

0
296

गाजियाबाद में हुआ बड़ा हादसा फैक्टरी में भीषण आग से 13 लोग जिंदा जले

गाजियाबाद दिल्ली से सटे गाजियाबाद में आज बड़ा हादसा हो गया। साहिबाबाद इलाके की गाजियाबाद में हुआ बड़ा हादसा फैक्टरी में भीषण आग से 13 लोग जिंदा जलेलैटर फैक्टरी में लगी भीषण आग में झुलसकर 13 लोगों की मौत हो गई। वहीं, दर्जन भर लोग झुलस गए हैं। इन्हें नजदीक के अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। सूचना पर पहुंची दमकल की गाड़ियां आग बुझाने में जुट गई है। पुलिस के मुताबिक, जिस फैक्टरी में आग लगी है वह जयपाल चौक, शहीद नगर में स्थित है। आग आज तड़के लगी। बताया जा रहा है कि आग लगने के समय काफी संख्या में कर्मचारी फैक्टरी में मौजूद थे। बताया जा रहा है कि साहिबाबाद इंडस्ट्रियल एरिया में यह फैक्टरी मौजूद है। यहां पर सुबह चार बजे के आसपास आग लगी जो देखते ही देखते काफी फैल गई, फैक्टरी में काम करने वाले लोगों में अफरातफरी मच गई। लोग जान बचाने के लिए यहां-वहां भागने लगे, लेकिन आग से घिरे 13 लोग अपनी जान गंवा बैठे। कहा जा रहा है कि सूचना के डेढ़ घंटे बाद दमकल की गाड़ियां मौके पर पहुंंचींं। लोगों का कहना है कि दमकल कर्मियों के पास आग बुझाने के उपकरण तक नहीं थे। जिलाधिकारी के बाद थोड़ी देर में आईजी मेरठ भी पहुंंच रहे हैंं। आग लगने का कारण शार्ट सर्किट बताया जा रहा है। वहीं, हालात को काबू में करने के लिए पुलिस बल मौके पर मौजूद है। सूचना पर स्थानीय प्रतिनिधि भी पहुंचे। इस बीच केंद्रीय मंत्री व स्थानीय सांसद वीके सिंह भी घटनास्थल पर पहुंचे और हालात का जायजा लिया। जान गंवाने वाले कर्मचारी हसमत, नेगवान, आजाद, महबूब, फजर, नाजिम, समीर, अलाउद्दीन, नसीम, आमिर, सलमान, मोमिन, शाकिर की मौत। बताया जा रहा है कि हादसे के दौरान फैक्टरी में कुल 16 कर्मचारी काम कर रहे थे, जिसमें 13 की झुलसने से मौत हो गई, जबकि तीन ने कूद कर अपनी जान बचाई। जान गंवाने वाले ज्यादार बरेली के रहने वाले थे।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments