पांच साल बाद भी नहीं बन पाए स्कूल भवन

0
239

पांच साल बाद भी नहीं बन पाए स्कूल भवन

हरिद्वार: जिले में तीन राजकीय प्राथमिक विद्यालयों के भवनों का निर्माण पांच साल से अधिक समय बीतने के बाद भी पूरा नहीं हुआ है। इन विद्यालयों के निर्माण की जिम्मेदारी वर्ष 2011 में विद्यालय प्रबंधन समिति को सौंपी गई थी। डीएम हरबंस सिंह चुघ ने इन भवनों के निर्माण की जांच कराने की बात कही है।
दरअसल, वर्ष 2011 में जनपद स्तर से तीन राजकीय प्राथमिक विद्यालय बहादराबाद, लक्सर एवं रुड़की में बनाने के लिए शासन स्तर से प्रस्ताव स्वीकृत किया गया था। प्रति विद्यालय के निर्माण के लिए करीब दो लाख रुपये स्वीकृत किया था। इन स्कूलों के निर्माण की जिम्मेदारी विद्यालय प्रबंधन समिति एवं लोक निर्माण विभाग को दी गई थी। इन भवनों के निर्माण के लिए 18 माह का समय दिया गया था, लेकिन पांच साल से अधिक समय बीतने के बाद भी इनका निर्माण नहीं हो पाया है। यह मामला गत दिनों जिला सतर्कता एवं निगरानी समिति की बैठक में उठाया गया था। बैठक में इन स्कूलों के निर्माण कार्यों के पूरा न होने की बात सामने आई थी। इस पर हरिद्वार सांसद रमेश पोखरियाल निशंक ने प्रभारी मुख्य शिक्षा अधिकारी डॉ. पुष्पा रानी वर्मा और जिला शिक्षा अधिकारी रामेंद्र कुशवाहा को तलब कर निर्माण कार्यों के अभी तक पूरा न होने के संबंध में जानकारी मांगी थी। जिला शिक्षा अधिकारी रामेंद्र कुशवाहा ने बताया था कि निर्माण एजेंसी से स्कूलों के मरम्मत कार्य की रिपोर्ट तलब की थी, लेकिन अभी तक रिपोर्ट नहीं आई है। इस पर निशंक और स्वयं जिलाधिकारी हरबंस सिंह चुघ ने संबंधित अधिकारियों से भवनों के लेटलतीफी और निर्माण के पूरा न होने पर जवाब तलब किया। इस पर दोनों ही अधिकारियों के स्तर से माकूल जवाब न मिलने पर सांसद निशंक ने जिलाधिकारी को पूरे मामले की जांच का निर्देश दिया था। इस प्रकरण को गंभीरता से लेते हुए जिलाधिकारी हरबंस सिंह चुघ ने खुद पूरे मामले की जांच की बात कही है।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments