चौबे जी गए थे छब्बे बन्ने लेकिन दूबे बनकर लौटे

1
265

देहरादून। जी हां यह लाइने ऐसे तथाकथित पत्रकार पर सटीक बैठती है जो बीते दिन देहरादून जनपद के एक थाने में आपसी विवाद को निपटाने के लिए गया था लेकिन जैसे ही चौबे जी थाने के अंदर पहुंचे तो वहां मौजूद थानेदार महोदय ने इस तथाकथित पत्रकार की ऐसी सिट्टी पिट्टी गुम की कि उनको थाने से ही बैरंग लौटा दिया गया।

देहरादून जनपद के एक थाना क्षेत्र जिसके नाम का खुलासा भड़ास नहीं करना चाहता क्योंकि उन तथाकथित पत्रकार महोदय के कारनामों से देहरादून की पूरी मीडिया वाकिफ है और थाने में थानेदार महोदय की लगाई गई क्लास के बाद वह पत्रकार महोदय जो अपने को सबसे बड़ा पत्रकार बनने का दावा कर रहे थे थानेदार की क्लास के बाद दुबे जी बन कर बाहर आ गए हैं।

चलिए आपको हम पूरा मामला ही बता देते हैं देहरादून शहर के एक थाने में दो पक्षों का विवाद काफी समय से चल रहा था जिसको लेकर पुलिस दोनों पक्षों को मामले के लिए थाने में बुलाया गया था लेकिन कहीं से इन तथाकथित पत्रकार महोदय को भनक लग गई कि मामले में जरूर कुछ हरे-हरे नोटों का स्वाद मिल सकता है जिसको लेकर यह तथाकथित पत्रकार महोदय थाने में जा पहुंचे और अपना परिचय एक पत्रकार के रूप में देख कर थानेदार को ही कानून का पाठ पढ़ाने लगे।

लेकिन थानेदार ने जब इन तथाकथित पत्रकार महोदय को कानून की भाषा में अपना पाठ पढ़ाया तो यह थाने से ही बाहर भागते हुए नजर आए उसके बाद थानेदार महोदय ने यह मामला अपने उच्च अधिकारियों के संज्ञान में भी लाकर ऐसे लोगों के खिलाफ भविष्य में किस तरह की कार्रवाई की जाए इसको लेकर भी रणनीति तय की है।

देहरादून में इस तरह के तथाकथित पत्रकार का एक बड़ा कुनबा इसी तरह के कामो को लेकर अपनी नज़र बना कर रखता है यही नहीं उनकी सोशल मीडिया में कई ऐसी फोटो भी देखी जा सकती है जिसमे वो अपनी पहुंच ऊपर तक होने का दावा करते है लेकिन ऐसे तथाकथित पत्रकार कहे जाने का दावा करने वाले को एक थानेदार ने उसकी तथाकथित पत्रकार को थाने से भगा कर असली औकात दिखाई है जिसको लेकर देहरादून की मीडिया में काफी चर्चा भी तेज हो चली है।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments