जिला योजना समिति की बैठक में विकास योजनाओं में तेजी लाने के निर्देश

0
171

जिला योजना समिति की बैठक में विकास योजनाओं में तेजी लाने के निर्देश

हरिद्वार वित्त मंत्री श्रीमती इंदिरा हृदयेश ने जिला योजना समिति की बैठक में विकास योजनाओं में तेजी लाते हुए योजनाओं को धरातल पर लागू करने के निर्देश दिये विकास योजनाओं में तेजी लाते हुए योजनाओं को धरातल पर लागू करें। जनप्रतिनिधियों से प्रस्ताव अवष्य लिये जायें। प्रत्येक विकास योजनाओं का ग्राम सभा स्तर तक प्रचारप्रसार किया जाए। यह बात प्रभारी मंत्री इन्दिरा हृदयेष ने मेला नियंत्रण कक्ष सभागार में जिला योजना समिति की बैठक में समिति के सदस्यों व अधिकारियों को सम्बोन्धित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि जिला योजना एक पूरक योजना है और विकास की महत्वपूर्ण कड़ी है। यदि किसी कारण से जिला योजना में बजट आंवटित नही हो पाता है, तो उस कार्य को राज्य योजना अथवा केन्द्रीय पोषित योजना से पूरा किया जायेगा। उन्होंने कहा कि सभी जनप्रतिनिधियों के प्रस्तावों का सम्मान किया जायेगा और अधिकतम सहमति के आधार पर निर्णय लिया जायेगा। प्रभारी मंत्री ने जल संस्थान व जल निगम को षुद्ध, स्वच्छ पेयजल उपलब्ध कराने का निर्देष दिये। बैठक में 5725 लाख रूपये लागत की हरिद्वार जिला योजना को जिला योजना समिति ने प्रभारी मंत्री के साथ ध्वनि मत से पास किया। इसमे से 89 प्रतिषत पूंजीगत रोड़, पुल, पेयजल इत्यादि के लिए व्यय होगा। प्रमुख रूप से पंचायती राज विभाग हेतु 827 लाख, सड़क व पुल हेतु 100 लाख, पेयजल हेतु 200 लाख, वैकल्पिक ऊर्जा हेतु 96 लाख, माध्यमिक षिक्षा हेतु 120 लाख स्वीकृत किये गये। बैठक में नई योजनाओं के लिए कुल 1442 लाख रूपये का प्रावधान किया गया। बैठक में जिला पंचायत अध्यक्ष सविता चैधरी, विधायक आदेष चैहान, फुरकान अहमद, चन्द्रषेखर, ममता राकेष, सांसद प्रतिनिधि ओमप्रकाष जमदाग्नि, राजेन्द्र चैधरी, जिलाधिकारी हरबंस सिंह चुघ, सीडीओ डाॅ. मेहरबान सिंह बिष्ट, सीएमओ डाॅ. बी.एस. जंगपांगी, अर्थ एवं संख्याधिकारी, जिला विकास अधिकारी एवं जिला पंचायत सदस्य उपस्थित थे।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments