जिला पंचायत की बैठक सम्पन्न

0
237

जिला पंचायत की बैठक सम्पन्न

अल्मोड़ा जिला पंचायत की बैठको में अधिकारी पूर्ण तैयारी के साथ उपस्थित रहने के साथ ही जिला पंचायत सदस्यों द्वारा पूछे गये प्रश्नो का सही उत्तर देना सुनिश्चित करेंगे यह बात जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती पार्वती मेहरा ने  जिला पंचायत सभागार में आयोजित बैठक में कही। उन्होंने कहा कि सभी जिला स्तरीय अधिकारी जनप्रतिनिधियों को विश्वास में लेकर अपने विभाग से सम्बन्धित कार्यों की जानकारी समयसमय पर देने के साथ ही अपने निरीक्षण की सूचना भी उन्हें अनिवार्य रूप से देंगे ताकि अनेक मामलो का निस्तारण मौके पर ही किया जा सके। जिला पंचायत अध्यक्ष ने अधिकारियों एवं जिला पंचायत सदस्यों से कहा कि सदन की गरिमा बनी रहे इसका भी हमे ध्यान रखना होगा। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि जो भी समस्या जनप्रतिनिधियों द्वारा उठाई जाती है उसका संज्ञान लेते हुए कृत कार्यवाही से उन्हें अवश्य अवगत करा दिया जाय। इस महत्वपूर्ण बैठक में जिला पंचायत सदस्यों ने कहा कि जिला योजना अन्तर्गत जो भी कार्य कराये जाते है उन कार्यों के प्रारम्भ होते एवं कार्य समापन होने पर उन्हें अवश्य आमंत्रित किया जाय साथ ही जो भी शिलापटट बनाया जाता है उसमें सम्बन्धित जिला पंचायत सदस्य का नाम अवश्य अंकन हो। इस पर जिला पंचायत अध्यक्ष ने आश्वस्त किया कि इस बैठक का संज्ञान लेते हुए शासन को पत्र भेजा जायेगा और शासनादेश में संशोधन कर इसका प्राविधान रखने के लिए अनुरोध किया जायेगा। बैठक में सोमेश्वर महाविद्यालय व श्मशान घाट तक जो रोड में जो डामरीकरण का कार्य हो रहा है वह घटिया स्तर का है इसकी जाॅच कराने की माॅग सम्बन्धित जिला पंचायत सदस्य द्वारा की गयी। इस अवसर पर बैठक में उपस्थित जिला पंचायत सदस्यों ने अपनेअपने क्षेत्र की सड़कों, पुलो आदि की समस्या रखी और उसपर जानकारी चाही। लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों ने विभाग के स्तर से हो रही कार्यवाही से अवगत कराया और आश्वस्त किया कि जो भी समस्या उनके द्वारा रखी गयी है उसका प्राथमिकता से निदान किया जायेगा। स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा के दौरान चैखुटिया सामुदायिक केन्द्र के समीप थाने की दीवार टूटने के कारण सीवर का पानी सड़क में आ रहा है उसे ठीक करने के निर्देश मुख्य विकास अधिकारी ने सम्बन्धित अधिकारियों को दिये। इस महत्वपूर्ण बैठक में शिक्षा विभाग के बारे में जिला पंचायत सदस्यों ने कहा कि जहाॅ पर पेयजल की समस्या है वहाॅ पर पेयजल उपलब्ध कराया जाय साथ ही जिन विद्यालयों की स्थिति खराब है उसका संज्ञान लेते हुए उनकी मरम्मत, शौचालय आदि पर कार्यवाही करने के निर्देश भी दिये गये साथ ही इण्टर कालेज खीड़ा में एक अतिरिक्त शौचालय बनाने की माॅेग सम्बन्धित जिला पंचायत सदस्य द्वारा रखी गयी। इस पर मुख्य शिक्षाधिकारी ने कहा कि प्राथमिकता से इस कार्य को किया जायेगा। इस अवसर पर जू0हाईस्कूल गुलार, हाईस्कूल खुजरानी, प्राथमिक विद्यालय टटलगाॅव, रामपुर, जमड़िया, बगड़ी, पीपलधार, बसरखेत, तड़ागताल सहित अनेक विद्यालयों की समस्याओं से सम्बन्धित क्षेत्र के सदस्यों ने अवगत कराया और शिक्षा विभाग से आवश्यक कार्यवाही करने को कहा। मुख्य शिक्षाधिकारी ने बताया कि जिला पंचायत सदस्यों द्वारा स्कूलो में भवन निर्माण, शौचालय, अध्यापकों की नियुक्ति सहित अन्य माॅगें रखी गयी है उस पर कार्यवाही चक्रानुसार की जा रही है। इण्टर कालेज झीपा की समस्याओं पर क्षेत्र के जिला पंचायत सदस्य ने जानकारी चाही। इस पर मुख्य शिक्षाधिकारी ने उन्हें अभी तक की कार्यवाही से अवगत कराया। बेस चिकित्सालय में गन्दगी का मामला भी सम्बन्धित जिला पंचायत सदस्य द्वारा उठायी गयी साथ ही सीटी0 स्कैन मशीन, अल्ट्रा साउण्ड मशीन को ठीक करने को कहा गया। इस पर सदन के सभी सदस्यों ने नाराजगी व्यक्त कि जनपद मुख्यालय के चिकित्सालय में यदि अव्यवस्था रहेगी तो अन्य क्षेत्रों में भी इसका बुरा प्रभाव पड़ेगा इस लिए इस बात का संज्ञान लेते हुए मुख्य चिकित्साधिकारी अपने स्तर से आवश्यक कार्यवाही करना सुनिश्चित करेंगे। उपस्थित सदस्यों ने अपनेअपने क्षेत्रों में चिकित्सा व्यवस्था पर नाराजगी व्यक्त की और कहा कि जब भी चिकित्सा व्यवस्था से सम्बन्धित बैठके आयोजित हो या मुख्य चिकित्साधिकारी भ्रमण पर आयें उन्हें इन अवसरो पर अवश्य अवगत कराया जाय। वन विभाग की समीक्षा के दौरान सदस्यों ने जंगली जानवरों से हो रहे नुकसान के लिए ठोस निर्णय लेने की बात कही। इस पर वनाधिकारी ने बताया कि सुअररोधी दिवार बनाने के प्रस्ताव उनके कार्यालय में प्राप्त हुए है जिन्हें संकलित कर स्वीकृति हेतु शासन को भेजा गया है वहाॅ से स्वीकृति मिलने के बाद सभी विकासखण्डों में प्राथमिकता के आधार पर यह कार्य कराया जायेगा। इस बैठक में सदस्यों द्वारा इस बात से भी नाराजगी व्यक्त की गयी कि जो समस्यायें सदन में उनके द्वारा उठायी जाती है अधिकारी उसका संज्ञान नहीं लेते है इस पर मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि भविष्य में इसकी पुनरावृत्ति नहीं होने पायेगी। बैठक में उपस्थित जिला पंचायत उपाध्यक्ष शिवेन्द्र रावत ने सभी सदस्यों से कहा कि हमे अपनी बात को सही ढ़ग से रखकर उसके निदान के लिए समन्वय बनाकर काम करना होगा तभी विकास कार्य आगे बढ़ पायेंगे। मुख्य विकास अधिकारी जे0एस0 नगन्याल ने सदन को आश्वस्त किया कि जो भी समस्यायें जिला पंचायत सदस्यों द्वारा उठायी गयी है उसका निस्तारण यथा समय हो इसके लिए अधिकारियों को निर्देशित किया जा रहा है। इस अवसर पर सरकार द्वारा भिकियासैंण के जिला पंचायत सदस्य महेन्द्र सिंह मेहरा जिन्हें साक्षरता मिशन अभिकरण का उपाध्यक्ष बनाया गया है। उन्हें जिला पंचायत अध्यक्ष व उपाध्यक्ष ने पुष्पगुच्छ देकर सम्मानित किया। इस बैठक में उपस्थित पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष और जागेश्वर विधानसभा क्षेत्र के विधायक प्रतिनिधि मोहन ंिसह मेहरा ने कहा कि हम सभी को टीम भावना से कार्य करना होगा तभी सदन की गरिमा बनी रहेगी। उन्होंने शिक्षा विभाग द्वारा विद्यालयों के निर्माण हेतु जिला पंचायत को कार्यदायी संस्था चयनित करने पर जिलाधिकारी व शिक्षा विभाग के अधिकारियों का आभार व्यक्त किया। इसके अलावा इस बैठक में समाज कल्याण, पंचायती राज, जिला पूर्ति, ग्राम्य विकास विभागों की समीक्षा हुई। बैठक में सम्बन्धित विभागो के अधिकारी सहित अधिकांश जिला पंचायत सदस्य उपस्थित थे।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments