दिनेश मानसेरा की इस किताब के लिए क्यों उत्साही है यूथ

0
149

Dinesh Mansera Book Mangli Patkatha :दिनेश मानसेरा की इस किताब के लिए क्यों उत्साही है यूथ


हल्द्वानी साहित्य को लेकर नयी युवा पीढ़ी के लिए इस बार हल्द्वानी में अलख जगाई जा रही है काफी समय से तैयारी में जुटे हुए हल्द्वानी के पत्रकार दिनेश मानसेरा एक बार फिर गोला नदी पर अपनी फिल्म का क्लाइमेक्स दिखाए और दाजु बोले किताब के बाद अपनी दूसरी किताब के साथ इस बार हल्द्वानी वासियो के लिए एक नया आगाज़ करते नज़र आएंगे दिनेश मानसेरा वर्तमान समय में अपनी एक नयी किताब मंगली एक पटकथा का भी विमोचन करेंगे इस किताब में जिंदगी के कई ऐसे पहलू भी लिखे गए है जिनका रियल लाइफ से मतलब रहता है कुल मिलाकर दाजु बोले के बाद उनकी इस किताब को लेकर भी लोगो में गज़ब का उत्साह नज़र आ रहा है

हल्द्वानी लिटरेचर फेस्ट को आयोजित करने के पीछे आम्रपाली शिक्षण संस्थान और कॉर्डियल संस्था का उद्देश्य ये है कि हल्द्वानी, नैनीताल और आसपास के क्षेत्रों में रहने वाले साहित्य से जुड़े लोगों को एक स्थान पर लाकर उन्हें देश दुनिया के साहित्यकारों ,लेखकों, उपन्यासकारों ,पत्रकारों, कवियों आदि से संवाद कराना, आम्रपाली संस्थान अपने यहां के विद्यार्थियों में साहित्य के प्रति रुचि पैदा कर उनकी प्रतिभा निखारने के लिए काम करता रहा है और हल्द्वानी लिटरेचर फेस्ट के माध्यम से उन्हें भविष्य में एक मंच साझा करने का अवसर प्रदान करने जा रहा है।

सोशल मीडिया के जरिये युवा विद्यार्थी लेखन में रुचि रख रहे है उन्हें भी साहित्य से जोड़ने का एक प्रयास है,कुमाऊँ-गढ़वाल, में जानें माने कवि, लेखक हुए है उनकी यादों को संजोना साथ ही नई पीढ़ी को उनके बारे में जानकारी देने का कार्य भी हल्द्वानी लिटरेचर फेस्ट के जरिये होगा,हल्द्वानी और आसपास आर्ट-क्राफ्ट से जुड़ी प्रतिभाओं को भी इस फेस्ट के माध्यम से देश दुनिया से रूबरू करवाया जाएगा,

उत्तराखण्ड के विभिन्न शहरों में साहित्य को लेकर लोगो मे रुचिकर संवाद होते रहे है ,हल्द्वानी इससे अछूता था हमारे शिक्षण संस्थान ने ये कार्य अपने हाथ मे लिया है,इस बार एक दिन का फेस्ट किया जारहा है अगली बार इसे और व्यापक रूप देने पर आम्रपाली संस्थान और कॉर्डियल दोनों विचार कर रहे है,फेस्ट के आयोजन से आम्रपाली शिक्षण संस्थान के विद्यार्थियों में एक टीम वर्क से काम करने ,लक्ष्य के प्रति सफलता हासिल करने की क्षमता विकास का भी प्रबंधन होता है।जोकि विद्यार्थियों के भविष्य में एक सकारात्मक सोच को विकसित करता है।

हल्द्वानी लिटरेचर फेस्ट के माध्यम से ज्ञान का आदान प्रदान नई और पुरानी पीढ़ी के बीच होने से अनुभव हासिल होता है।हल्द्वानी लिटरेचर फेस्ट के जरिये आम्रपाली शिक्षण संस्थान और कॉर्डियल भविष्य में हल्द्वानी और आसपास रहने वाले साहित्यकारों को सम्मान देने उनकी रचनाओं को संरक्षित करने के लिए एक वाचनालय भी स्थापित करने पर विचार कर रहा है।

हल्द्वानी लिटरेचर फेस्ट के जरिये हल्द्वानी शहर का नाम भी साहित्य की दुनिया मे जाना जाए इसके लिए संस्थान के विद्यार्थी शिक्षक व अन्य सहयोगी एक कार्ययोजना सोशल मीडिया पर एक अभियान के रूप में लेंगे।हल्द्वानी लिटरेचर फेस्ट के जरिये आम्रपाली संस्थान और कॉर्डियल ऐसे लेखकों की खोज कर उन्हें प्रोत्साहित करेगा जोकि आर्थिक सामाजिक कारणों से गुमनाम सी जिंदगी जी रहे है ।

हल्द्वानी लिटरेचर फेस्ट का एक उद्देश्य ये भी है कि हमारा समाज, देश और दुनिया मे हो रहे साहित्य के बदलाव से भी रूबरू हो सके फेस्ट का शुभारंभ वित्त नियोजन मंत्री प्रकाश पन्त करेंगे।
उसके बाद मेहमानों के सत्र में साहित्य की चर्चा शुरू होंगी,
हसीनाबाद लिखने वाली गीता श्री,ठग लाइफ लिखने वाली प्रितपाल कौर, खाकी में इंसान लिखने वाले एडीजी अशोक कुमार ,खड़ख माफी लिखने वाले ललित मोहन रयाल,हार नहीं मानूंगा के लेखक विजय त्रिवेदी,तुम चुप क्यों रहे केदार के लेखक ह्रदयेश जोशी,स्याह सलेटी के लेखक रणवीर चौहान,युवा लेखक ब्लागर विनीत कुमार,न्यूज़ एंकर लेखक अभिसार शर्मा, ज़िन्दगी लाइव की प्रस्तुतकर्ता ऋचा अनुरुद्ध,अमित श्रीवास्तव आदि लेखक मौजूद रहने वाले है।हल्द्वानी के पत्रकार दिनेश मानसेरा की लिखी किताब मंगली एक पटकथा का भी विमोचन सत्र होगा..फेस्ट में उभरती हुई चित्रकार सीमा बक्शी की आर्ट गैलरी भी लगाई जाएगी।
कार्यक्रम के लिए आयोजन में आम्रपाली परिवार और कॉर्डियल परिवार में मनमोहन जोशी, तनुजा जोशी,दिनेश पांडेय,प्रमोद शाह,अवनीश राजपाल,आलोक सिंह,वरुण अग्रवाल,संजीव भगत,शिखर आहूजा,आदि को आयोजक मण्डल में सम्मानित स्थान दिया गया है।देहरादून के बुकवर्ल्ड भी इसमे सहयोगी की भूमिका में है।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।