उत्तराखंड डी जी पी पुलिस कप्तान तक नहीं दिला पाये युवती को इंसाफ

0
687

उत्तराखंड डी जी पी पुलिस कप्तान तक नहीं दिला पाये युवती को इंसाफ
कोर्ट से मिला इंसाफ सिपाही पर हुआ मुकदमा दर्ज़
हरिद्वार चार साल तक खाकी में छुपा हवस का भूखा उसी की बेबसी का फायदा उठा कर अपनी जिस्म की आग को ठंडा करता रहा अपने साथ बीती इस हरकत को वो पुलिस से लेकर कई अधिकारियो के पास कारवाही को लेकर चक्कर लगाती रही लेकिन किसी ने भी उस की बात को सुना तक नहीं ये हाल उत्तराखंड में उस धर्म नगरी का है जहा लोग आस्था के संगम में इन दिनों धार्मिक वातावरण में अपनी पूजा अर्चना करने आ रहे है सवाल ये उठ रहा है की जब खाकी में इस तरह के भेड़िये रहेंगे तो आम पब्लिक को क्या इंसाफ मिलता होगा इस का आकलन किया जाना जरुरी है इस तरह के कई मामले पुलिस महकमे में पूर्व में भी उजागर होते अाये है यही नहीं कई बड़े अधिकारी भी इस तरह के मामलो को लेकर विवादित हुए है है लेकिन कारवाही के नाम पर आज तक किसी को भी पुलिस के द्वारा इंसाफ मिल पाया हो सभी मामलो में कोर्ट ने ही पुलिस को इंसाफ दिलाने को लेकर अपना डंडा चलाया है इस मामले में उत्तराखंड पुलिस के डी जी पी से लेकर हरिद्वार जनपद के पुलिस कप्तान तक युवती को इंसाफ दिला पाने में फ़ैल साबित हुए है इस तरह के मामलो से जहा राज्य सरकार के खिलाफ भी गलत सन्देश जा रहा है सरकार को ऎसे मामलो पर तुरंत कारवाही कर पीड़ित को इंसाफ दिलाने के लिए आगे आना होगा तभी सरकार के पक्ष में नयी उम्मीद जनता के बीच जा सकेगी
नया मामला भी हरिद्वार की नगरी से है भड़ास फॉर इंडिया को मिली जानकारी के अनुसार हरिद्वार उत्तराखंड में खाकी एक बार फिर शर्मसार हुई है। हरिद्वार पुलिस के एक कांस्टेबल पर बीस वर्षीय युवती ने चार वर्ष से रेप करने का आरोप लगाया है।पुलिस के उच्चाधिकारियों ने जब युवती की गुहार नहीं सुनी तब कोर्ट की फटकार के बाद कांस्टेबल के खिलाफ ज्वालापुर पुलिस को रेप का मुकदमा दर्ज करना ही पड़ा। कांस्टेबल पर रेप के मुकदमे से पुलिस महकमे में हडकंप मचा है।

पीड़ित युवती ज्वालापुर क्षेत्र की रहने वाली है। कोर्ट को दिए प्रार्थना पत्र में युवती ने बताया कि वो अनपढ़ है और कोतवाली रानीपुर में तैनात कांस्टेबल रणवीर से उसकी जान पहचान चार वर्ष हुई थी।
आरोप है कि शादी का झांसा देकर कांस्टेबल उसे शिवमूर्ति चौक, सिडकुल एवं पिरान कलियर के अलग-अलग होटल में ले जाता रहा। फिर चाय में नशीला पदार्थ मिलाकर उसे बेहोश कर रेप करता रहा।आरोप है कि जब भी शादी का दबाव बनाती तब तब कांस्टेबल उसे गंभीर परिणाम भुगतने की चेतावनी देता। बताया कि पिछले वर्ष 29 सितंबर को उसे पिरान कलियर के एक होटल में लेकर गया तब भी उसने उसके साथ शारीरिक संबंध बनाए।आरोप है कि जब शादी करने की बात कही तब उसके साथ मारपीट की। यही नहीं उसे जान से मारने की धमकी देकर कांस्टेबल चला गया। आरोप है कि तब से उसे मोबाइल फोन पर धमकाया जा रहा था शुक्रवार को कोर्ट के आदेश पर ज्वालापुर पुलिस ने रेप का मुकदमा दर्ज कर ही लिया। कोतवाली प्रभारी धीरेंद्र सिंह रावत ने बताया कि मामले की जांच शुरु कर दी गई है।

दरअसल पूरा पुलिस महकमा कांस्टेबल को बचाने में ही लगा हुआ है। क्योंकि, युवती ने तीन अक्टूबर को डीजीपी से लेकर एसएसपी को शिकायत की थी, लेकिन उसकी शिकायत की कही सुनवाई नहीं हुई। जब पुलिस ने उसकी फरियाद नहीं सुनी तब युवती ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया।
इस तरह के मामले लगातार उत्तराखंड में खाकी को बदनाम कर रहे है लगातार ऎसे मामलो को लेकर सरकार की छवि पर भी गलत सन्देश जा रहा है अब इस तरह के मामलो को लेकर एक समिति बनाये जाने पर भी विचार किया जा रहा है
bhadas4india देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल bhadas4india.com की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments