सचिवालय अफसर ने पुलिस को सौंपी शिकायत

0
120

देहरादून उत्तराखंड में विष कन्याओं की कमी नहीं कभी ये अपना मकसद हल करने के लिए आती है तो कभी इनके आका इनका उपयोग किये जाने के लिए इनका उपयोग राजनीतिक फायदे के लिए किया जाता है देवभूमि उत्तराखंड हमेशा से ही ऐसी विष कन्याओं के माध्यम से राजनीतिक फायदा और दूसरे को किस तरह नुकसान पहुंचाना है इसके लिए बेहतर मोहरा बनती हुई नजर आई हैं।

जी हां हम बात कर रहे हैं उत्तराखंड देवभूमि में पिछले कुछ समय से मी टू को लेकर शुरू हुए उस विवाद की जिसकी जद में अब राजनेताओं से लेकर अफसरों को भी निशाना बनाया जाना शुरू कर दिया है उत्तराखंड में तेजी से फैल रहा विष कन्याओं का यह जहर अब एक बड़े साम्राज्य के रूप में सोने का अंडा देने वाली मुर्गी के सामान हो गया है।

चलिए अब हम बात करते हैं उत्तराखंड में एक ऐसे मामले की जिसको लेकर तेजी से चर्चा आम हो चली है एक गुमनाम पत्र को लेकर सचिवालय के एक अफसर के नाम का हवाला लेते हुए अपने साथ 2 सालों तक सरकारी नौकरी लगाने के नाम पर उत्पीड़न किए जाने का आरोप लगाने वाली यह गुमनाम लड़की आखिर कौन है और इसको किसके इशारे पर सचिवालय के अफसर के खिलाफ तैयार किया गया इसकी पृष्ठभूमि भी पुलिस की जांच के लिए बेहद महत्वपूर्ण हो जाती है।

इस मामले पर पीड़ित पक्ष के अफसर ने जनपद के पुलिस कप्तान को एक पत्र भेजकर इस मामले में जांच करते हुए कानूनी कार्रवाई किए जाने की तहरीर सौंपी है आपको बता दें कि देहरादून के एक पोर्टल ने भी इस समाचार को प्रमुखता से छाप कर मुख्यमंत्री कार्यालय के इस अवसर की छवि को पूरी तरह धूमिल करने का काम किया है सोशल मीडिया पर जैसे ही मुख्यमंत्री कार्यालय से जुड़े अफसर का नाम सामने आया तो यह पत्र सोशल मीडिया में तेजी से वायरल होना शुरू हो गया जिसके बाद मुख्यमंत्री कार्यालय में तैनात अफसर ने पुलिस में शिकायत दर्ज करने के साथ-साथ गुमनाम पत्र वाली लड़की और समाचार प्रकाशित करने वाले व्यक्ति के खिलाफ पुलिस में तहरीर सौंपी है आपको बता दें उत्तराखंड देवभूमि में इन दिनों में मी तू प्रकरण भी काफी तेजी से चल रहा है।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।