दामन पर दाग राजनिति का कॉकटेल देवभूमि पर प्रहार

0
483

दामन पर दाग राजनिति का कॉकटेल देवभूमि पर प्रहार
देहरादून उत्तराखंड की राजनिति को दूषित कर हरक सिंह रावत हमेशा राज्य का नाम बदनाम करते रहे है लेकिन परिणाम ये रहा की २००३ से लेकर वर्तमान समय तक राज्य की राजनिति सिर्फ महिलायो के आरोप लगाने तक सिमित रही है जिस राज्य का निर्माण महिलायो के आंदोलन से सुरु हुआ आज वही महिलाये अपने लिए राज्य में इंसाफ का इंतज़ार करती नज़र आ रही है हमेशा हरक सिंह रावत ही क्यों इस तरह के आरोपो से दो चार क्यों हुए ये सवाल भी आज राजनीती के गलियारों से लेकर राज्य के जनता के बीच उठ खड़ा हुआ है सवाल इस बात का भी की राज्य का विकाश किये जाने की जिमेदारी जिस के ऊपर थी वही इस राज्य का नाम बदनाम करते नज़र आ रहे है क्या राज्य की जनता इस तरह के राजनेतायों को सत्ता की चोखट तक पहुँचाने में अपना वोट २०१७ के रढ़ में इस्तमाल करेगी इस का फ़ैसला अब जनता की अदालत में जरूर होगा लेकिन सवाल फिर भी वही पर है की क्या इस तरह की दूषित राजनीती इस राज्य से दुरी होगी या इसी तरह राज्य में गन्दी राजनिति का करवा आगे बढ़ता रहेगा
हरक सिंह रावत मामले पर भले ही महिला ने अपने आरोप वापिस ले लिए हो लेकिन क्या क़ानूनी कारवाही होना जरुरी भी क्यों की एक महिला के लिए अपना चरित ऐसा गहना होता है जो एक बार बदनाम हो गया तो जीवन भर वो दाग नहीं धूल पाता यही सब वर्तमान उस महिला के साथ भी है जिस ने हरीश रावत के खिलाफ आरोप लगाकर राज्य की राजनीती को बदनाम कर दिया है अब महिला के खिलाफ कारवाही को लेकर हरीश रावत के निजी सहायक कमल रावत ने देहरादून पुलिस में रिपोर्ट दर्ज करवा दी है महिला ने हरीश रावत पर ये आरोप लगाकर राज्य के मुख्यमंत्री के ऊपर जिस तरह चरित हनन की राजनिति को अंजाम दिया है वो कम से कम इस राज्य के लिए सही कदम नहीं अगर इसी तरह आरोपो का जाल बुना जाता रहा तो आरोप लगाने वाले लोगो का सच जनता के सामने आना जरुरी है नहीं तो इस राज्य में ऐसी ओछी राजनिति से दो चार होना पड़ेगा जो देवभूमि के लिए तो सही कदम नहीं

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments