करोड़ो की ठगी करने वाले बिल्डर गिरफ्तार

0
342

करोड़ो की ठगी करने वाले बिल्डर गिरफ्तार
नई दिल्ली फ्लैट को फर्जी तरीके से कई लोगों को बेचकर सौ करोड़ रुपये से ज्यादा की ठगी करने वाले दंपती को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। राजधानी के कई थानों में आरोपी विनोद बंसल और प्रीति के खिलाफ मुकदमे दर्ज हैं। सीबीआइ ने भी दो मामले दर्ज किए हैं। साकेत कोर्ट ने विनोद को एक दिन की पुलिस रिमांड पर, जबकि प्रीति को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में तिहाड़ जेल भेज दिया है।1मुखर्जी नगर निवासी विनोद बंसल (54) और प्रीति (53) पंद्रह साल से दिल्ली में ठगी कर रहे थे। हाल ही में विनोद ने सफदरजंग एन्क्लेव में चार फ्लैट खरीदे और उन्हें बैंक में गिरवी रखकर 7.50 करोड़ रुपये का लोन लिया। विनोद और प्रीति ने बैंक के कुछ अधिकारियों के साथ मिलकर संपत्ति के दस्तावेज निकलवा लिए। प्रॉपर्टी के इन्हीं दस्तावेजों को दिखाकर विनोद ने चार फ्लैट ग्रीन पार्क निवासी अनिल चिल्लर, कृष्णा देवी, बसंत विहार निवासी अनिल श्रीवास्तव, कुसुम गोयल समेत आठ लोगों को बेच दिए। इसकी जानकारी बैंक को नहीं दी। दंपती का राज खुलने पर पीड़ितों ने उनके खिलाफ सफदरगंज एन्क्लेव थाने में 13 अप्रैल को मुकदमा दर्ज कराया। सब इंस्पेक्टर नरेश यादव ने दोनों की तलाश में कई जगह छापेमारी की, लेकिन हर बार वे हाथ से निकल जाते। बृहस्पतिवार को नरेश यादव को सूचना मिली की विनोद और प्रीति हैदरपुर मेट्रो स्टेशन के पास सीपी-ब्लॉक, शालीमार बाग में रह रहे हैं। घेराबंदी कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। शुक्रवार को उन्हें साकेत कोर्ट में पेश किया गया। दोनों के नाम पर फरीदाबाद, चंड़ीगढ़, मोहाली और दिल्ली में कई संपत्तियां हैं। उनका एक बेटा है। 2014 से फरार चल रहे विनोद और प्रीति के खिलाफ विवेक विहार, द्वारका सेक्टर-23, कालकाजी थाने में करोड़ों रुपये की धोखाधड़ी के मुकदमे दर्ज हैं।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments