कांग्रेस प्रवक्ता मनीष कर्णवाल का बयान जारी

0
503

कांग्रेस प्रवक्ता मनीष कर्णवाल का बयान जारी

देहरादून – कांग्रेस प्रवक्ता मनीष कर्णवाल ने बयान जारी करते हुए कहा कि नमामि गंगे योजना का तहत बड़े बड़े वादे करने वाली केंद्रीय मंत्री उमा भारती का शायद अब इस योजना से खुद ही विश्वास उठ गया है। तभी मंत्री जी कुछ वक़्त पूर्व केदारनाथ में हुए अभूतपूर्व कार्यो की तारीफ करती नहीं थकती थी। वही दूसरी और आजकल शायद अमित शाह एवम नरेंद्र मोदी जी के डर की वजह से उलटे सीधे बयान दे रही है। नमामि गंगे के तहत अक्टूबर 2016 तक धरातल पर काम दिखाई देने लगने का दांवा करने वाली मंत्री जी के कार्य नवंबर माह की समाप्ति के बाद नहीं दिखाई दे रहे है। प्रधानमंत्री जी का एक और जुमला जैसा गंगा प्रेमियो को प्रतीत होने लगा है इस बात की पुष्टि उनके साथी केंद्रीय मंत्री भी रुड़की आई आईं टी में अपने सम्बोधन में कर के गए है।
माँ गंगा ने मुझे बुलाया है कह कर अपने चुनावी अभियान की शुरआत करने वाले प्रधानमंत्री जी एवम उनके मंत्रियो की माँ गंगा की सफाई को लेकर प्रतिबद्धता पर आज कोई विपक्षी दल का नेता नहीं अपितु उन के खुद के केंद्रीय मंत्री ही सवाल खड़ा कर रहे है। कि कानपुर में गंगाजल में मुंह धोना भी संभव नहीं है। वही दूसरी और राष्ट्रीय नदी माँ गंगा की सफाई को लेकर कभी अनशन करने वाली नेता आज गंगा की मन्त्रालय की मंत्री है, और 20 हजार करोड़ का बजट से गंगा जी की सफाई का भारी भरकम बजट से अक्टूबर माह तक धरातल पर काम दिखने लगेगा का वादा करने वाली केंद्रीय मंत्री उमा भारती का अपने द्वेषपूर्ण रवैये का तहत माँ गंगा के उद्गम स्थल उत्तराखंड में कोई कार्य न कराना बीजेपी शासित केंद्र सरकार के उत्तराखंड राज्य से सौतेले व्यहार को दिखाने के लिए बहुत है। जिसका खामियाजा उत्तराखंड के लोग ही नहीं गंगा सागर तक के गंगा किनारे रहने वाले गंगा भक्तों और निवासियों को भुगतना पड़ेगा।
आज भाजपा की स्थिति यह हो गयी ही कि एक दिन में 6-6 केंद्रीय मंत्री उत्तराखंड का दौरा कर रहे है मगर किसी भी केंद्रीय मंत्री के पास उत्तराखंड के विकास की कोई योजना ही नहीं है। केवल यहाँ आकर कांग्रेस के नेताओ खास कर प्रदेश के मुख्यमंत्री के खिलाफ दुप्रचार करना ही इनका उद्देश्य बन गया है। जबकि प्रदेश की जनता लगातार पूछ रही है कि भाजपा के नेताओ खासकर मंत्रियों के यहाँ आने से प्रदेश को क्या फायदा हो रहा है? बिना किसी कार्ययोजना के केंद्रीय मंत्री खाली हाथ आ रहे है और उत्तराखडियो का समय बर्बाद कर रहे है और वापस चले जा रहे है। क्या केंद्रीय मंत्रियो को केवल उत्तराखंड आ कर इस तरह प्रदेश की सरकार एवम मुख्यमंत्री के बारे में अनाप शनाप बयानबाजी करना शोभा देता है?

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।