मुख्यमंत्री द्वारा हेमवती नन्दन बहुगुणा डबल लेन पुल का लोकार्पण

0
195

मुख्यमंत्री द्वारा हेमवती नन्दन बहुगुणा डबल लेन पुल का लोकार्पण
मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने सोमवार को श्रीनगर में श्रीनगर एवं चैरास को जोड़ने वाले 3637.43 लाख रूपये की लागत से निर्मित 190 मीटर लम्बे स्व0 हेमवती नन्दन बहुगुणा डबल लेन पुल का लोकार्पण किया। इसके साथ ही मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने 9 करोड़ 41 लाख रूपये की लागत से निर्मित चैरास को जाने वाली द्वितीय चरण के दो किमी रोड का शिलान्यास किया। इस पुल के निर्माण से श्रीनगर एवं चैरास के बीच आवागमन की सुविधा प्राप्त हो सकेगी। इसके पश्चात मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने बेस अस्पताल में ईडिजिटल पर्ची तथा डैशबोर्ड का उद्घाटन किया। उन्होंने कहा कि आज से राज्य के तीस अस्पतालों में ईडिजिटल पर्ची सिस्टम जिसके अन्तर्गत ओ.पी.डी. पंजीकरण प्रणाली शुरू होगी। उन्होंने कहा कि ईहैल्थ सेंटर के माध्यम से स्वास्थ्य सेवाओं को सुलभ एवं सस्ता बनाने के क्षेत्र में सरकार का यह महत्वपूर्ण कदम है। इसके पश्चात मुख्यमंत्री ने वीर चंद्रसिंह गढ़वाली राजकीय आयुर्वेदिक शोध संस्थान में ईस्टूडियो तथा टैली मेडिसिन सेवाओं का लोकार्पण किया। इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने उपस्थित जनसमूह को हिन्दू नववर्ष चैत्र नवरात्रि की हार्दिक बधाई दी। उन्होंने कहा कि दूरस्थ क्षेत्रों को स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराना सरकार की प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि यह कड़वी सच्चाई और यथार्थ है कि कोई भी डाक्टर पहाड़ में अपनी सेवा नहीं देने चाहता। जबकि राज्य में सबसे अच्छा वेतन डाक्टरों को दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि राज्य के 36 अस्पतालों से टैली रेडियोलॉजी एवं टैली मेडिसिन के माध्यम से बेहतर स्वास्थ्य सुविधायें उपलब्ध करायी जा रही हैं तथा स्वास्थ्य सेवाओं को अपग्रेड किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि सरकार का विजन है कि आगामी 2020 तक राज्य के प्रत्येक दस किमी के दायरे में सभी लोगों को स्वास्थ्य सुविधायें उपलब्ध करायी जाएंगी। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य सुविधाओं की बेहतरी के लिए लोग अपने सुझाव बेवसाइट व टोल फ्री 1905 के माध्यम से भी दे सकते हैं। उन्होंने बताया कि राज्य में अभी तक 1141 डाक्टरों की नियुक्ति की जा चुकी है। इसके अलावा 450 ए.एन.एम. की भर्ती प्रक्रिया पूर्ण हो चुकी है तथा शीघ्र ही पांच सौ और ए.एन.एम. की भर्ती होगी। उन्होंने बताया कि अब प्रत्येक जिला चिकित्सालय में आई.सी.यू. की सुविधा भी लोगों को मिल सकेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में चारधाम यात्रा ऑलवेदर रोड तथा रेल यातायात के साथ ही राज्य के 27 केद्रों को हवाई कनैक्टिविटी से भी जोड़े जाने की कार्यवाही गतिमान है। उन्होंने कहा कि राज्य में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए 13 नये डेस्टिनेशन विकसित किये जाएंगे। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि मेडिकल कॉलेज के लिए 6 एसोशिएट प्रोफेसरों की नियुक्ति की गई है। शीघ्र ही अन्य एसोसिएट प्रोफेसरों की नियुक्ति की जाएगी। उन्होंने बताया कि मेडिकल कालेज के लिए दो एम्बुलेंस, विभिन्न चिकित्सक आवासों व हॉस्टल आदि कार्यों को भी पूरा किया जाएगा साथ ही दो सौ बेडों के वार्ड का भी काम शीघ्र पूरा किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि आशा कार्यकर्ता को स्वास्थ्य सेवाओं में दिये जा रहे योगदान पर 2 लाख रूपये दुर्घटना बीमा राज्य सरकार द्वारा मुहैया कराया जाएगा। उन्होंने आशा कार्यकत्रियों को प्रशिक्षण एवं उपकरण देने के उपरान्त उन्हें बेहतर पुष्टाहार तैयार कर अपनी आर्थिकी को बढ़ाने को कहा। उन्होंने कहा कि कुपोषित बच्चों के लिए आशा कार्यकत्रियों के माध्यम से पुष्टाहार मुहैया कराया जाएगा। उन्होंने कार्यक्रम में कहा कि अब लोगों को कैंसर, कार्डियोलॉजी, हृदय सम्बंधी जांच के लिए भटकना नहीं पड़ेगा तथा आगामी माहों में सरकार द्वारा डिजिटल लैब की भी स्थापना की जाएगी। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने बेस चिकित्सालय के लिए रेडियोलॉजिस्ट पद पर डा. एबी अरोनी को हाथोंहाथ नियुक्ति पत्र देकर तैनात किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि वन विभाग में फोरेस्ट गार्ड की भर्ती के लिए 28 वर्ष तक के विज्ञान के साथ ही कला वर्ग के इंटरमीडिएट पास नौजवान आवेदन कर सकते हैं। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने राज्य प्रोत्साहन राशि वितरण हेतु आशा कार्यकत्रियों को 2525 हजार रूपये को चैक भी मुख्य चिकित्साधिकारी के माध्यम से उपलब्ध कराये। इस अवसर पर स्वास्थ्य सेवाओं के लिए बेहतर कार्य करने वाली खिर्सू ब्लाक की आशा कार्यकत्री नंदा चमोली को प्रथम पुरस्कार रूपया पांच हजार का चैक, प्रशस्ती पत्र, अंगवस्त्र, द्वितीय पुरस्कार में विकास खंड कोट की मधु देवी को तीन हजार का चैक, प्रशस्ती पत्र, अंगवस्त्र तथा एकेश्वर की कांती देवी को तृतीय पुरस्कार के रूप में एक हजार का चैक, प्रशस्ती पत्र, अंगवस्त्र इसके अलावा आशा फैसिलिलेटर के लिए प्रथम पुरस्कार खिर्सू ब्लाक की संगीता देवी को पांच हजार का चैक, प्रशस्ती पत्र, अंगवस्त्र, द्वितीय पुरस्कार परसुंडाखाल की पिंकी रावत को तीन पांच हजार का चैक, प्रशस्ती पत्र, अंगवस्त्र तथा तृतीय पुरस्कार के रूप में बीरोंखाल ब्लाक की रजनी देवी के एक पांच हजार का चैक, प्रशस्ती पत्र, अंगवस्त्र भेंट किया। जबकि ब्लाक कॉर्डिनेटर के रूप में अनीता कुकरेती को पांच पांच हजार का चैक, प्रशस्ती पत्र, अंगवस्त्र देकर सम्मानित किया। कार्यक्रम में पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज, वन मंत्री डा. हरक सिंह रावत, उच्च शिक्षा राज्य मंत्री डा. धन ंिसंह रावत विधायक श्री मुकेश कोली, श्री दिलीप रावत, श्रीमती ऋतु खंडूड़ी, श्री विनोद कंडारी, श्री सुरेंद्र सिंह नेगी, श्री खजानदास, मुख्य सचिव उत्पल कुमार, अपर मुख्य सचिव ओम प्रकाश, सचिव चिकित्सा नितेश झा, वीर चंद्र सिंह गढ़वाली आयुर्वेदिक शोध संस्थान के प्राचार्य डा0 सी.एम.एस. रावत, सहित जनपद के विभिन्न स्थानों से आयी आशा कार्यकत्रियां व चिकित्सा संकाय के पदाधिकारी व मेडिकल फैकल्टी के छात्र छात्राएं उपस्थित रहे।
Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments