सिटी पेट्रोल यूनिट चैन लूट की वारदातो को रोकने में पास मित्र पुलिस फ़ैल

0
500


सिटी पेट्रोल यूनिट चैन लूट की वारदातो को रोकने में पास मित्र पुलिस फ़ैल

देहरादून उत्तराखंड में मित्र पुलिस चैन लूट की वारदातो को रोकने में नाकाम साबित हो रही है और अभी कुछ समय पूर्व बनायीं गयी पुलिस की सी पी यू बेहतर काम कर रही है यही नहीं दिन रात मेहनत करके आम जनता को सुरक्षा प्रदान करनी वाली पुलिस के काम को लेकर राज्य का पुलिस महकमा क्या कर रहा है इस के लिए कोई मानिटरिंग नहीं की जा रही सचिवालय में हुई बैठक साफ़ बता रही है की राज्य में बनायीं गयी पुलिस की सी पी यू से राज्य में चैन लूट की वारदातो में कमी आई है मतलब साफ़ है की राज्य की पुलिस चैन लूट की वारदातो को रोक पाने में फ़ैल साबित हुई है भड़ास फॉर इंडिया को मिली जानकारी के अनुसार यातायात व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए लोक निर्माण, विद्युत, पेयजल, नगर निगम, प्राधिकरण आदि संबंधित विभागों के साथ समन्वय किया जायेगा।
यातायात व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए लोक निर्माण, विद्युत, पेयजल, नगर निगम, प्राधिकरण आदि संबंधित विभागों के साथ समन्वय किया जायेगा। मुख्य सचिव की अध्यक्षता में समन्वय बैठक की जायेगी। सिटी पेट्रोल यूनिट (सीपीयू) को और मजबूत किया जायेगा। यातायात पुलिस का अलग ढ़ांचा बनाया जायेगा।
गुरूवार को सचिवालय में मुख्य सचिव शत्रुघ्न सिंह की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में यातायात व्यवस्था सुधार के संबंध में विस्तार से चर्चा हुई। बैठक में बताया गया कि वर्ष 2016-17 के लिए सीपीयू के मानव संसाधन हेतु 6 करोड़ रूपये और उपकरणों की खरीद के लिए 10 करोड़ रूपये मंजूर किये गये। सीपीयू की तैनाती से चेन स्नैचिंग, छेड़छाड़ आदि सड़क पर होने वाली घटनाओं में कमी आई है। पायलट प्रोजेक्ट के आधार पर किये गये इस प्रयोग की सराहना कई स्तरों पर हुई है। इन्हें अति आधुनिक उपकरणों से लैस किया गया है। बताया गया कि राज्य में 2,01,119 वाहन पंजीकृत है। लगभग 5 करोड़ पर्यटक, तीर्थ यात्री हर साल आते है। इसलिए जरूरी है कि भीड़-भाड़ वाले शहरों में सीपीयू के साथ-साथ यातायात पुलिस को भी मजबूत किया जाय।
बैठक में डीजीपी बी.एस.सिद्धू, प्रमुख सचिव गृह उमाकांत पंवार, एडीजी राम सिंह मीना, अपर सचिव गृह अजय रौतेला सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित है।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments