Chakrata TYUNI LAND बंज़र जमीन मामला : जांच में जमीन सरकार ने निहित किये जाने के आदेश

0
369

Chakrata TYUNI LAND : बंज़र जमीन मामला : जांच में जमीन सरकार ने निहित किये जाने के आदेश
देहरादून / चकराता बंज़र जमीन अपने नाम किये जाने के मामले पर एसडीऍम कोर्ट ने जमीन सरकार में निहित किये जाने के आदेश दिए है चकराता त्यूणी हनोल मोटर मार्ग में बंज़र जमीन अपने नाम किये जाने का खुलासा त्यूणी निवासी संगीता नौटियाल ने किया था जिस पर त्यूणी निवासी चंदराम पर बंज़र जमीन अपने नाम किये जाने की शिकायत राज्य के मुख्यमंत्री से लेकर बड़े अधिकारियो को की गयी थी जिसके बाद जांच हुई तो बंज़र जमीन अपने नाम किये जाने का झूठ जांच में सफ़ेद साबित हुआ है वर्ष 2016 में उक्त जमीन को वाद के बाद अपने नाम किया गया था

उत्तराखंड में जमीनों को अपने नाम किये जाने का खेल बखूबी अंजाम दिया जाता रहा है उधमसिंहनगर में नेशनल हाईवे जमीन मामले में भी मुआवजा हड़प लिए जाने की जांच में कई अधिकारी से लेकर ऐसे लोगो को गिरफ्तार किया जा चूका है लेकिन चकराता निवासी संगीता नौटियाल में जब सूचना अधिकार से जानकारी निकाली तो बंज़र जमीन के खेल का खुलासा हुआ जिसके बाद शिकायत होने पर मामले की जांच के आदेश दिए गए और लगाये गए आरोप सही साबित हुए

बंज़र जमीन मामले पर अब सरकारी अधिकारी अपनी जांच में बंज़र जमीन अपने नाम किये जाने का फैसला दे चुके है ऐसे में सवाल उठ रहा है क्या अब उन लोगो के खिलाफ मुकदमा दर्ज़ कर कारवाही किये जाने की हिम्मत अफसर कर सकेंगे जिनके द्वारा बंज़र जमीन मामले को लेकर इस खेल को अंजाम दिया गया है बता दे की ये मामला काफी समय से चर्चा का विषय बना हुआ था लेकिन अब इस मामले को लेकर लगातार भड़ास फॉर इंडिया ने भी अपनी मुहीम को चलाये रखा मामले का सच पता चल जाने के बाद चंदराम पर क़ानूनी तलवार लटक गयी है भड़ास फॉर इंडिया ने जब इस मामले को लेकर चंदराम से बात की तो उन्होंने कहा की वो अभी तहसील में है जहा से जानकारी लेकर इस मामले पर कुछ कहेगे उन्होंने बताया की मामले पर उस जमीन को सरकार ने निहित किये जाने के आदेश दिए गए है

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।