केन्द्र सरकार का लक्ष्य मार्च 2017 तक सभी कृषकों के पास मृदा स्वास्थ्य कार्ड हो

0
383

केन्द्र सरकार का लक्ष्य मार्च 2017 तक सभी कृषकों के पास मृदा स्वास्थ्य कार्ड हो

हरिद्वार केन्द्रीय कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह ने कोर काॅलेज आॅफ इंजीनियरिंग, रूड़की में विश्व मृदा स्वास्थ्य दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में प्रतिभाग करते हुए कहा कि जब तक धरती स्वस्थ नहीं रहेगी किसान खुश नहीं रह सकता है। उन्होंने कहा कि देश में लगभग 14 करोड़ किसान है। केन्द्र सरकार का लक्ष्य है कि मार्च 2017 तक सभी कृषकों के पास मृदा स्वास्थ्य कार्ड हो। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार ने मृदा स्वास्थ्य कार्ड के लिए उत्तराखण्ड को 201415 एवं 1516 में कुल 88 लाख रूपये की धनराशि एवं मृदा परीक्षण लेब के लिए एक करोड़ 50 लाख रूपये की धनराशि उपलब्ध कराई गई। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार का लक्ष्य है कि 31 मार्च 2017 तक उत्तराखण्ड के सभी सात लाख पचास हजार कृषकों के पास मृदा स्वास्थ्य कार्ड हो। उन्होंने कहा कि मृदा के परीक्षण के लिए पंचायत लेबल पर भी लैब बनाई जाए। उन्होंने जैविक खेती को बढ़ावा देने पर बल दिया। इस अवसर पर कृषि निदेशक गौरीशंकर, मुख्य विकास अधिकारी डाॅ मेहरबान सिंह बिष्ट, अपर जिलाधिकारी प्रशासन डाॅ अभिषेक त्रिपाठी, मुख्य कृषि अधिकारी जे.पी. तिवारी मामचन्द त्यागी एवं जनपद के कृषक उपस्थित थे।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments