रिश्वत लेते असिस्टेंड मैनेजर सीबीआई ने किया गिरफ्तार

0
299

(गदरपुर, उधमसिंह नगर) गदरपुर में उत्तराखंड ग्रामीण बैंक के असिस्टेंड मैनेजर विपिन चन्द आर्य को 10 हजार की रिश्वत लेते हुए सीबीआई की टीम ने गिरफ्तार किया है गदरपुर उत्तराखंड ग्रामीण बैंक में असिस्टेंड मैनेजर विपिन चन्द आर्य अभी कुछ समय पहले ही पोस्टिंग लेकर यहाँ आया था गदरपुर में डेयरी का लोन करने की एवज में उनके द्वारा लोन पास करवाए जाने के लिए घूस माँगी जा रही थी जिसकी शिकायत पीड़ित ने सीबीआई टीम से करी तो मामला सही पाया गया जिसके बाद बड़ी कारवाही करते हुए उत्तराखंड ग्रामीण बैंक के असिस्टेंड मैनेजर विपिन चन्द आर्य को 10 हजार की रकम लेते हुए पकड़ लिया।

रिश्वत लेते असिस्टेंड मैनेजर सीबीआई ने किया गिरफ्तार

गदरपुर में गुलरभोज मोड़ से आगे पेट्रोल पम्प के सामने आज दोपहर टीम ने पीड़ित वयक्ति को माँगी गयी रकम लेकर भेजा गया जिसके बाद उसको घूस की रकम के साथ टीम ने पकड़ लिया पकड़े जाने के बाद उत्तराखंड ग्रामीण बैंक के असिस्टेंड मैनेजर विपिन चन्द आर्य को टीम अपने साथ लेकर उसके आवास में गयी जहा पर टीम को कई ऐसी जानकारी भी मिली है जिसके आधार पर आगे की कारवाही को अंजाम दिया जायेगा उत्तराखंड ग्रामीण बैंक के असिस्टेंड मैनेजर विपिन चन्द आर्य की गिरफ़्तारी की सूचना मिलते ही बैंक में दूसरे कर्मियों में हड़कंप मच गया था इसके आलावा गदरपुर में बैंक कर्मी को पकड़े जाने की सूचना मिलते ही काफी संख्या में लोगो की भीड़ भी मोके पर जुटी थी।

लोन स्वीकृत होने के बाद खाते में ट्रांसफर करने के नाम पर 10 हजार की रिश्वत मांगने वाले उत्तराखंड ग्रामीण बैंक के सहायक प्रबंधक विपिन चंद्र आर्या को सीबीआइ देहरादून की टीम ने गिरफ्तार कर लिया है। फिलहाल टीम उनसे पूछताछ कर रही है। गदरपुर थाना क्षेत्र के झुन्नी मजरा निवासी रूप चंद्र ने बताया कि उन्होंने उत्तराखंड ग्रामीण बैंक की शाखा में 2.50 लाख का लोन लेने के लिए आवेदन किया था। लोन स्वीकृत हो गया था। लोन की रकम सिर्फ खाते में ट्रांसफर होनी थी, लेकिन सहायक प्रबंधक विपिन चंद्र आर्या निवासी हल्द्वानी इसके लिए 20 हजार रुपये की रिश्वत मांग रहे थे।

इन्कार करने पर उन्होंने रुपये ट्रांसफर नहीं किए। इस पर सौदा 10 हजार रुपये में तय हुआ। रूप चंद्र ने इसकी शिकायत 13 सितंबर को देहरादून स्थित सीबीआइ कार्यालय में की थी। शिकायत की जांच के बाद सीबीआई की टीम योजना के मुताबिक मंगलवार दोपहर गदरपुर पहुंची। इस दौरान रूप चंद्र ने बैंक पहुंचकर विपिन चंद्र को 10 हजार रुपये दे दिए। रुपये देते ही टीम ने सहायक बैंक प्रबंधक विपिन चंद्र को रंगेहाथ रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार कर लिया।

सीबीआई टीम ने विपिन चंद आर्य के घर पर भी छापेमारी को अंजाम देने के बाद कई टीम ने पूछताश कर कई ऐसी जानकारी भी हासिल हुई है जिनके आधार पर आगे की कारवाही को किया जायेगा।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।