प्रेस परिषद द्वारा चयनित विषय पर गोष्ठी का आयोजन

0
514

प्रेस परिषद द्वारा चयनित विषय पर गोष्ठी का आयोजन

देहरादून जिला सूचना अधिकारी कु0 अर्चना द्वारा गोष्ठी में उपस्थित सभी प्रेस प्रतिनिधियों का स्वागत करते हुए सम्बन्धित विषय पर अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि वर्तमान समय में पत्रकारिता जहां अपने आप में एक चुनौती है वहीं एक सम्भावना भी है तथा जरूरत केवल सम्भावनाओं को तलाशते हुए मर्यादा में स्वतन्त्र अभिव्यक्ति की है। इस अवसर पर श्री बी.डी शर्मा ने अपने विचार रखते हुए कहा कि को लोकतन्त्र चैथा स्तम्भ कहा जाता है जो वर्तमान में व्यवसायिकता की गिरफ्त में जा रहा है, जिससे बाहर निकलना बहुत बड़ी चुनौति बन गया है तथा इससे बाहर निकलने के लिए हमें अपने व्यक्तिगत हित दरकिनार करते हुए सर्वहित में कार्य करना होगा। इस अवसर पर श्री सुधीर गोयल ने अपने विचार रखते हुए कहा कि मीडिया के साथ विरोधाभाष/संघर्ष की स्थिति हमेशा बनी रहती है, जहां विचार नही मिलेगें वहां विरोधाभास व संघर्ष होगा तथा इसके लिए हम सभी एक दूसरे की भावना का सम्मान करते हुए जनहित में अपना योगदान देना होगा। इस अवसर पर श्री विश्वजीत सिंह नेगी ने अपने विचार रखते हुए कहा कि सभी मीडिया प्रतिनिधियों का मुख्य दायित्व/कर्तव्य है कि समाज के प्रति अपने दायित्वों को याद रखते हुए कर्तव्यों का निर्वहन करना चाहिए तथा मीडिया के सामने सबसे बड़ी चुनौती सच लिखना है। इस अवसर पर श्री इन्द्रदेव रतूड़ी ने कहा कि समय के साथ पत्रकारिता का स्तर गिरा है जो कि दुर्भाग्यपूर्ण है, पूर्व में पत्रकारिता का अपना महत्व था जिस पर आम जनभावना का ख्याल रखते हुए लेख व खबर लिखी जाती थी तथा जिस पर लोग विश्वास करते थे। इस अवसर पर श्री सुनील गुप्ता ने अपने विचार रखते हुए कहा कि पत्रकारिता में परिणाम की चिंता नही करनी चाहिए अपने अधिकार एवं कर्तव्यों की जानकारी के साथ निष्पक्ष होकर अपना कार्य करना चाहिए। इस अवसर पर सेवानिवृत्त सहायक निदेशक सूचना श्री पी.डी पाण्डेय ने अपने विचार रखते हुए कहा कि पत्रकारिता में देखा गया है कि जहां तुष्टिकरण की स्थिति बनती है वहां पर विरोधाभास स्वभाविक हो जाता है, ऐसा नही हो सकता कि हम सभी को खुश रखे अच्छा यही है कि हमें अपने दायित्वों का निर्वहन करते हुए जनहित में कार्य करना चाहिए तथा विरोधाभास की स्थिति से बचने का प्रयास करना चाहिए। इस अवसर पर श्री पे्रम पंचैली ने अपने विचार रखते हुए कहा कि मीडिया का स्वरूप अब काफी बदल गया है जहां पर हर एक आदमी अपने आप में एक पत्रकार है उन्होन सभी से अपने आप में नई पत्रकारिता के चलन के हिसाब से रहना चाहिए तथा मीडिया की जहां उपयोगिता है पत्रकारिता असर होता है केवल नजरिये में फर्क को समझना होगा। इस अवसर पर राजेन्द्र सिंह नेगी, चेतन खड़का, ठाकुर सुक्खन सिंह, वीर सिंह चैहान, मंजीत सिंह, संदीप शर्मा अतिरिक्त जिला सूचना अधिकारी वीरेन्द्र सिंह ने अपने विचार रखे। गोष्ठी में हरेन्द्र प्रसाद, सुभाष कुमार, नवीन चन्द्र बरमोला, जयनारायण बहुगुणा संरक्षक जिला सूचना कार्यालय रती लाल, कनिष्ठ सहायक इन्द्रेश चन्द्र, टैक्निकल अस्सिटैंट आनन्द सिंह, अनुसेवक पंकज आर्य, अजय कुमार उपस्थित थे।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments