मी टू विवाद संजय कुमार हुए क्लीन बोल्ड

0
341

देहरादून । उत्तराखंड में बीजेपी के नेता पर महिला द्वारा लगाए गए आरोपों के मामले में मुकदमा दर्ज़ किये जाने की माँग को लेकर कांग्रेस ने इसको निकाय चुनाव में मुद्दा बनाये जाने के लिए अपनी राजनैतिक बैटिंग तेज कर दी है जिसको लेकर हलाकि बीजेपी महामंत्री (संगठन) संजय कुमार को पद से हटा चुकी है लेकिन उत्तराखंड में बीजेपी इस मामले को लेकर बैकफूट पर नज़र आ रही है बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने बीते दिवस बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष कार्यालय में जब मीडिया से वार्ता करते हुए उनको पद से हटाए जाने की जानकारी दी तो उसके बाद अजय भट्ट इस मामले पर अधिक कुछ बोलते हुए नज़र नहीं आये ऐसे में इस मामले को लेकर निकाय चुनाव में कांग्रेस का प्रहार बीजेपी के लिए एक बड़ी चोट के रूप में नज़र आ सकता है लेकिन अब देखना होगा कांग्रेस इस मामले को लेकर जनता के बीच कितना प्रभाव डाल पाती है जबकि बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट इस मामले को लेकर कांग्रेस पर निकाय चुनाव में हार जाने का डर सताए जाने के बाद इस तरह के आरोपों को लगाया जाना बता चुके है।

ये खबर भी पढ़े: संजय कुमार ऐसे बने मी टू विवाद का कारण

देहरादून भाजपा के महामंत्री (संगठन) संजय कुमार पर महिला द्वारा लगाये गये शारीरिक शोषण के आरोपों के बावजूद राज्य सरकार के दबाव में संजय कुमार के खिलाफ अभी तक कोई कानूनी कार्रवाई नहीं की जा रही है जो महिला शक्ति का अपमान है, जिसके विरोध में प्रदेष कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह के निर्देश पर कांग्रेस पार्टी ने प्रदेशभर के जिला मुख्यालयों में भाजपा सरकार का पुतला दहन करने का निर्णय लिया गया है। इसी कार्यक्रम के तहत देहरादून में प्रदेष कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह के नेतृत्व में विषाल प्रदर्षन का आयोजन करते हुए भाजपा सरकार का पुतला दहन किया गया।

इस अवसर पर प्रदेष अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि भाजपा मुख्यालय में अपने ही दल की एक महिला कार्यकर्ता के षारीरिक षोशण के आरोपों में घिरे भाजपा के प्रदेष महामंत्री (संगठन) संजय कुमार पर महिला द्वारा स्वयं ही यौन उत्पीड़न के आरोप लगाये गये हैं जो कि प्रदेष की समस्त मातृ षक्ति का अपमान है तथा इस घटना से उत्तराखण्ड की देवभूमि कलंकित हुई है। इस घटना के प्रकाष में आने के बाद भाजपा के प्रदेष नेतृत्व द्वारा महामंत्री संगठन प्रकरण में आंतरिक जांच का हवाला देते हुए अपनी जिम्मेदारी से पल्ला झाड लिया है। उन्होंने कहा कि इस प्रकरण पर कार्रवाई करने के बजाय भाजपा के देहरादून महानगर अध्यक्ष विनय गोयल के बयानों ने राजनीति कर रही हर महिला पर प्रश्न चिन्ह लगाने का काम किया है।

प्रदेष कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि भाजपा की सरकार में प्रदेष की महिलायें अपने आपको असुरक्षित महसूस कर रही हैं। उन्होंने कहा कि पिछले एक महीने के अन्दर भाजपा के तीन वरिष्ठ पदाधिकारियांे के द्वारा महिलाओं के यौन उत्पीड़न की शर्मनाक खबरों ने समाज में राजनीति कर रही महिलाओं की छवि को धुमिल करने का काम किया है। इससे पूर्व भाजपा के नेता वरिष्ठ पत्रकार एवं केन्द्रीय मंत्री एम0 जे0 अकबर पर 20 महिला पत्रकारों द्वारा यौन उत्पीड़न का आरोप हो चाहे राष्ट्रीय सह संयोजक शिव प्रकाश पर पश्चिम बंगाल की महिला द्वारा बलात्कार का आरोप हो और अब देवभूमि उत्तराखण्ड में महामंत्री संगठन संजय कुमार का प्रकरण हो, सभी शर्मशार एवं झकझोर देने वाले है।

भाजपा के राश्ट्रीय सह संयोजक षिव प्रकाष पर पष्चिम बंगाल में लगे बलात्कार के आरोप में प्राथमिकी दर्ज होने पर भाजपा के तमाम षीर्श नेताओं ने यह कहते हुए किनारा कर लिया कि यह तृणमूल कांग्रेस और ममता बनर्जी का षिव प्रकाष को बदनाम करने की सुनियोजित सााजिष है, लेकिन संजय कुमार के प्रकरण में तो नेत्री भी भाजपा की, पदाधिकारी भी भाजपा का और राज्य में सरकार भी भाजपा की ही है। ऐसे में भाजपा का कोई भी नेता अधिकृत बयान देने से गुरेज क्यों कर रहा है इसे सीधे-सीधे भाजपा नेताओं को महिलाओं के यौन उत्पीड़न और कुत्सित मानसिकता रखने वालों के संरक्षक के रूप में देखा जाना चाहिए। भाजपा नेताओं के इस प्रकार के बयानों से भाजपा की मातृ षक्ति के प्रति घृणित मानसिकता उजागर होती है।

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि एक तरफ भाजपा बेटी बचाओ, बेटी बढ़ाओ का झूठा नारा देती है वहीं आज महिलायें भाजपा षासित राज्यों में सबसे ज्यादा असुरक्षित हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी इस प्रदर्षन के माध्यम से मांग करती है कि षीघ्र भाजपा नेता की गिरफ्तारी कर उन पर यौन उत्पीड़न का मामला दर्ज किया जाय।

प्रदर्शन करने वालों में पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय, पूर्व मंत्री हीरा सिंह बिष्ट, पूर्व विधायक राजकुमार पूर्व विधायक, प्रदेश उपाध्यक्ष सूर्यकान्त धस्माना, महामंत्री विजय सारस्वत, अनुशासन समिति के अध्यक्ष प्रमोद कुमार सिह, मुख्य कार्यक्रम समन्वयक राजेन्द्र शाह महानगर अध्यक्ष लालचन्द शर्मा, जिलाध्यक्ष पछुवादून संजय किशोर, परवादून गौरव सिंह, राजेश पाण्डे, प्रवक्ता, डाॅ0 आर.पी. रतूड़ी, गरिमा दसौनी, डाॅ0 प्रदीप जोशी, प्रभुलाल बहुगुणा, ताहिर अली, अशोक वर्मा, राजेश चमोली, नागेश रतूड़ी, गिरीश पुनेड़ा, अभिषेक सिंह, महेश जोशी, दीवान सिंह तोमर, भरत शर्मा, गोदावरी थापली, सुनीत सिंह राठौर, आजाद अली, श्याम सिंह चैहान, सूरत सिंह नेगी, एस0सी0 प्रकोष्ठ अध्यक्ष दर्शन लाल सतेन्द्र पंवार, सुलेमान अली, त्रिलोक सजवाण, मंजु तोमर, जितेन्द्र सिह बिष्ट, राजीव महर्षि, विशाल मौर्य, अनुराग मित्तल, अनुज दत्त शर्मा, हरविन्दर सिंह रतन, देविका रानी, अशोक कोहली, महन्त विनय सारस्वत, संजय भारद्वाज, दीप बोहरा, शांति रावत, प्रणीता बड़ोनी, कै0 बलवीर रावत, कमलेश रमन, अनिता निराला, अनुराधा तिवाडी, मोहन काला, राजेश शर्मा, अश्विन बहुगुणा, जगदीश धीमान, शोभा राम, पूनम पुण्डीर, डी.बी. क्षेत्री, मोहन काला, त्रिलोक सजवाण, श्रवण रजौरिया, राजेश शर्मा, रजत अग्रवाल, अवधेश पन्त, पूरण सिंह रावत, आई.टी. के अमरजीत सिंह, राजेश पाण्डेय, विशाल मौर्य, धर्म सिंह पंवार, गज्जी तोमर, कुंवर सिंह यादव, सावित्री थापा, देवेन्द्र बुटोला, आदि अनेक कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments