भगत सिंह कोश्यारी क्यों लेगे राजनीती से सन्यास

0
1098

  भगत सिंह कोश्यारी क्यों लेगे राजनीती से सन्यास     देहरादून  भाजपा के अध्यक्ष अजय भट्ट के खिलाफ सोशल मीडिया में लगातार विरोध जारी है वही भाजपा के बड़े नेताओ में अपना कद रखने वाले भगत दा ने राजनीती से सन्यास लिए जाने की बात कही है लेकिन भगत दा के बाद उनकी राजनीती का वारिस कौन होगा इस को लेकर अभी तक कोई नाम सामने नहीं आया है उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी ने कहा कि वह वर्ष 2019 में राजनीती से संन्यास लेंगे। साथ ही उन्होंने प्रदेश के मुख्यमंत्री हरीश रावत पर भी हमला बोला।
भारत रत्न पंडित गोविंद बल्लभ पंत जयंती समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में शामिल होने आये कोश्यारी ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि 2019 में चुनाव न लड़ने और सामाजिक काम करने की इजाजत उन्होंने हाई कमान से मांगी है।

उन्होंने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री बीसी खंडूड़ी को लेकर नारे पर उन्होंने कहा कि उत्तराखंड के लिए खंडूड़ी ही नहीं, प्रत्येक नागरिक जरूरी है। सीएम हरीश रावत पर सियासी हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि रावत दिल्ली में केंद्रीय मंत्रियों की दावत में शामिल होकर काम करवाते हैं। इसके बाद वह उत्तराखंड लौटने पर उन्हीं पर आरोप लगाते हैं।

वित्त मंत्री अरुण जेटली से की मुलाकात
भाजपा सांसद भगत सिंह कोश्यारी ने नैनीताल राजभवन में पार्टी नेताओं के साथ केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली से मुलाकात की। करीब 20 मिनट तक चली बातचीत में आगामी चुनाव की रणनीति और मुद्दों को लेकर चर्चा हुई। कोश्यारी ने वित्त मंत्री के समक्ष राज्य हित से जुड़े तमाम सवाल भी उठाए।

बाद में उन्होंने कहा कि मिशन 2017 में जीत हासिल करने के लिए भाजपा का राज्य और केंद्रीय नेतृत्व बेहद गंभीर है। राज्य के वरिष्ठ नेताओं से विचार विमर्श के बाद ही हाई कमान चुनाव की रणनीति को अंतिम रूप देगा। जिताऊ चेहरों को ही टिकट दिया जायेगा।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments