आशा निरोध को लेकर नेशनल हेल्थ मिशन का कारनामा,उत्तराखंड में वितरण पर रोक

0
2411

आशा निरोध को लेकर नेशनल हेल्थ मिशन का कारनामा,उत्तराखंड में वितरण पर रोक
देहरादून उत्तराखण्ड सरकार ने राज्य में केंद्र सरकार के एन आर एच् ऍम के तहत आशा कार्यकार्तियो के आशा निरोध बाटे जाने पर रोक लगा दी है राज्य के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने स्वास्थ महकमे को निर्देश जारी किये है की राज्य में आशा निरोध को महिलाओं के द्वारा वितरित नहीं किया जायेगा केंद्र सरकार के राष्टीय स्वास्थ मिशन के तहत सभी राज्यो में आशा कंडोम को बाट कर महिलाओं का अपमान किया जा रहा है भड़ास फॉर इंडिया ने बीते एक दिन पूर्व इस खबर को अपने न्यूज़ पोर्टल पर प्रकशित किया था जिस के बाद राज्य सरकार ने आशा कंडोम के वितरण पर रोक लगा दी है आशा कंडोम को लेकर पंजाब सहित कई राज्यो में केंद्र सरकार के खिलाफ आक्रोश भी देखने को मिल रहा है पंजाब में आशा कार्यकार्तियो ने आशा कंडोम को बाटे जाने से साफ इंकार कर दिया था भाजपा एक तरफ महिलाओं को आगे लाकर उनके विकास की बात करती है लेकिन इस मामले के सामने आने के बाद भाजपा का कई राज्यो में विरोध तेज़ हो गया है उत्तराखण्ड में उजागर मामले को लेकर भाजपा को इस का राजनैतिक नुकसान हो सकता है वही कांग्रेस इस मामले को लेकर देश के अंदर आंदोलन का बिगुल बजा सकती है बता दे की केंद्र सरकार राष्टीय हेल्थ मिशन के तहत सभी राज्यों में स्वस्थ को लेकर जागरूक अभियान चलाता है इसी योजना के तहत उत्तराखंड राज्य में भी आशा निरोध को एन आर एच एम के अधीन काम करने वाली महिलायो से बटवाया जा रहा था

विवादों में आशा कंडोम महिलायो का हुआ अपमान
केंद्र सरकार के नेशनल हेल्थ मिशन के तहत देश भर में वैसे तो कई जागरूकता अभियान चलते रहते है लेकिन आशा कंडोम को लेकर वर्तमान समय में विवाद जहां सामने आ गया है वही महिलायो का अपमान भी उजागर हुआ है सवाल ये उठ रहा है की जब इस योजना पर मंथन किया जा रहा था तब इस विभाग में बैठे अधिकारी से लेकर जिम्मेदार लोग कहा सो रहे थे पूर्व में सरकारी अस्पतालों में कंडोम का नाम निरोध के रूप में होता था जिस को बदल कर अब आशा कंडोम कर दिया गया है नाम को बदले जाने से जहां महिलायो का अपमान हो गया है वही ऐसे में आशा कंडोम बनाने वाली कंपनी पर भी सवाल उठ रहे है इस कारनामे के सामने आने के बाद देश भर में भाजपा की महिलायो के प्रति सोच भी उजागर हो गयी है

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments