अब षडयंत्रकारियो की खैर नहीं

0
222

अडानी का वीडियो वायरल करने वाले साजिश के बीजों पर पुलिस रडार

मुख्यमंत्री व भाजपा सरकार के ख़िलाफ़ कांग्रेस का एक और षड्यंत्र असफल: कांग्रेस का उत्तराखंड विरोधी चेहरा जनता के सामने

देहरादून: मुख्यमंत्री व एक उद्योगपति के बीच बातचीत के वीडियो के साथ छेड़छाड़ कर उसे वायरल करने के मामले का ख़ुलासा होने के साथ कांग्रेस का मुख्यमंत्री व भाजपा सरकार के ख़िलाफ़ एक और षड्यंत्र जनता के सामने आया है और इस बार भी कांग्रेस की क़लई खुलने के साथ उसे असफलता हाथ लगी है ।

भाजपा प्रदेश मीडिया प्रमुख डॉ देवेंद्र भसीन ने यहाँ कहा कि हम शुरू से कह रहे थे कि उत्तराखंड विरोधी कांग्रेस उत्तराखंड के विकास के लिए आयोजित इंवेस्टर्स समिट को असफल करने का षड्यंत्र कर रही है और नियोजित ढंग से नकारात्मक वातावरण बनाने के प्रयास में लगी है, जिससे निवेशक उत्तराखंड न आएँ। यहाँ तक की समिट के उद्घाटन दिवस पर भी कांग्रेस ने समिट को अस्तव्यस्त करने के लिए समिट स्थान पर पहुँचने की कोशिश की और समिट विरोधी बयानबाज़ी के साथ साथ धरना भी दिया । किंतु प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आशीर्वाद व मुख्यमन्त्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के अथक प्रयास से समिट ऐतिहासिक रूप से सफल रही और चालीस हज़ार करोड़ रू के लक्ष्य के सापेक्ष एक लाख पचीस हज़ार करोड़ रु के एमओयू पर हस्ताक्षर हुए ।

उन्होंने कहा कि समिट की सफलता से बौखलाए हुए कांग्रेस नेताओं ने अब समिट को असफल बताने का षड्यंत्र किया जिसका परिणाम वह वीडियो है जिसमें छेड़छाड़ कर मुख्यमंत्री व देश के बड़े उद्योगपति के बीच हुए वार्ता को ग़लत ढंग से दिखाया गया। यह वीडियो पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष के फ़ेसबुक एकाउंट व एक न्यूज़ पोर्टल पर पोस्ट हुआ और फिर कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव व पूर्व मुख्यमंत्री ने उस पर ट्वीट किया।

अब जब प्रदेश के सूचना विभाग ने इस मामले में पुलिस में शिकायत की है और जाँच शुरू हो गई है पूरे मामले की और परतें भी खुलेंगी। इस षड्यंत्र में जो लोग शामिल हैं उन सभी के ख़िलाफ़ कार्यवाही होगी लेकिन इसमें कांग्रेस के चेहरे से नक़ाब फिर उतरा चुका है।

डॉ भसीन ने कहा कि इससे पहले कांग्रेस नेताओं द्वारा एक ट्रान्सपोर्टर को बहका कर भाजपा प्रदेश मुख्यालय भेजने की घटना जिसमें जहर खाने से ट्रान्सपोर्टर की मृत्यु हो गई थी प्रदेश सरकार व भाजपा के ख़िलाफ़ षड्यंत्र का परिणाम थी। लेकिन इसमें भी कांग्रेस नेताओं की हरकतों का ख़ुलासा हुआ। ऐसे ही कांग्रेस नेताओं ने अन्य घटनाओं को भी अंजाम दिया और यहाँ तक कि मुख्यमंत्री के परिवार को भी निशाना बनाने की कोशिश हुई पर साँच को आँच नहीं इसलिए कांग्रेस को हर बार मुँह की खानी पड़ी ।

उन्होंने कहा कि उत्तराखंड के कांग्रेस नेता जो लोकसभा चुनाव में उत्तराखंड की पाँचों सीटें जीतने का सपना देख रहे है भारी ग़लत फ़हमी में हैं। उत्तराखंड की जनता राज्य विरोधी कांग्रेस को सभी सीटों पर बुरी तरह से पराजित कर भाजपा को फिर विजयी बनाएगी व कांग्रेस को करारा सबक़ देगी ।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेता सत्ता से हटने के बाद इतने बौखलाए हुए हैं कि वे प्रदेश से लेकर राष्ट्रीय स्तर तक अमर्यादित व्यवहार कर रहे हैं लेकिन जनता सब समझ रही है।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।