पांच सो और हज़ार के नोटों को लेकर पेट्रोल पम्प वालो की मनमानी नहीं दे रहे पेट्रोल

0
590

पांच सो और हज़ार के नोटों को लेकर पेट्रोल पम्प वालो की मनमानी नहीं दे रहे पेट्रोल

500 and 1000 notes doctor-for-not-providing-hundred-rupee

देहरादून बाज़ारो में पेट्राल पम्प से लेकर दुकानदार पांच सो और हज़ार के नोटों को लेने से मना कर रहे है जिस की वजह से आम जनता को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है हालात इस कदर हो गए है की पेट्रोल पम्प पर टूटे नोट न होने के कारण पेट्रोल नहीं दिया जा रहा बाज़ारो में एक दिन में ही काफी मंदी आ गयी है हलाकि सबसे ज्यादा परेशानियों का समाना गरीब को करना पड़ रहा है देहरादून में पेट्रोल पम्प पर पेट्रोल वाले तैल खुले पैसे न होने के चलते नहीं डाल रहे जिस के कारण रोजाना गाड़ी में तैल डलवाने वालो को परेशानी हो रही है बीते दिन मोदी सरकार ने बाज़ारो में ५०० और हज़ार के नोटों पर प्रतिबन्ध लगा दिया था जिस के कारण इस तरह का माहौल कायम हुआ है वही कई जगह से खबर है की बाज़ारो में इस तरह का माहौल को कायम हो गया है जो एक तरह का अविस्वाश पैदा कर रहा है वही दूसरी तरफ
भुगतान में सौ के नोट न होने पर एक निजी अस्पताल की चिकित्सक ने मरीज को डिस्चार्ज करने से मना कर दिया। इसे लेकर अस्पताल में जमकर हंगामा हुआ। बाद में पुलिस के हस्तक्षेप पर मामला शांत हुआ। गदरपुर निवासी जितेंद्र विश्वास ने गर्भवती पत्नी रीना को डिलीवरी के लिए अतुल अस्पताल में भर्ती कराया। आज रीना को डिस्चार्ज करना था। अस्पताल का बिल 22 हजार रुपये का बना। इसमें से वह दस हजार रुपये का भुगतान पहले ही कर चुका था। आरोप है कि आज जब वह बिल की 12 हजार की राशि का भुगतान करने गया तो अस्पताल की डॉ. स्वाती ने उससे सौ के रुपये में भुगतान करने को कहा। चिकित्सक ने पांच सौ व एक हजार के नोट लेने से साफ मना कर दिया। इस पर दोनों पक्षों में जमकर हंगामा भी हुआ। इस बीच जितेंद्र ने पुलिस को भी सूचना दे दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने जब इस महिला चिकित्सक को समझाया तो वह पांच सौ के नोट लेने को राजी नहीं हुई। इस पर पुलिस के उच्चाधिकारियों को हस्तक्षेप करना पड़ा। तब जाकर चिकित्सक ने पांच सौ के नोट तो ले लिए, लेकिन यह भी कहा कि दो दिन बाद जितेंद्र सौ के नोट लाकर इन्हें बदलवा देगा।इस तरह के मामलो पर सरकार को कोई न कोई जवाब देही तो तय करनी होगी जिस से समाज में जनता को कोई परेशानी न हो

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments