300 करोड 34 लाख के कार्यों का लोकापर्ण एवं शिलान्यास

0
187

300 करोड 34 लाख के कार्यों का लोकापर्ण एवं शिलान्यास

हल्द्वानी वैदिक मंत्रों के बीच प्रदेश के मुख्यमंत्री हरीश रावत, वित्त मंत्री डा0 श्रीमती इन्दिरा हृदयेश, राजस्व मंत्री यशपाल आर्य, खेल मंत्री दिनेश अग्रवाल, प्रभारी मंत्री प्रीतम सिंह, श्रम मंत्री हरीशचन्द्र दुर्गापाल ने संयुक्त रूप से रविवार को ग्रेटर हल्द्वानी गौलापार में लगभग 200 करोडों की लागत से बने इन्दिरा गांधी अन्तर्राष्ट्रीय स्र्पोटर्स काम्पलैक्स क्रिकेट स्टेडियम का लोकार्पण किया, वही हल्द्वानी विधानसभा क्षेत्र के अन्तर्गत लगभग 21 करोड 90 लाख की लागत से निर्मित/सौन्दर्यीकरण सडकों व 02 करोड की धनराशि से निर्मित हल्द्वानी विकासखण्ड के आवासीय एवं अनावसीय भवनों का लोकापर्ण के साथ ही गौलापार में लगभग 100 करोड की लागत से बनने वाले भव्य एवं आधुनिकतम अन्तर्राष्ट्रीय प्राणी उद्यान व 10 करोड की लागत से अल्मोडा महाविद्यालय में निर्मित होेने वाले आवासीय एवं अनावासीय भवनों की आधारशिला भी रखी। इस तरह कुल 300 करोड 34 लाख के कार्यों का लोकापर्ण एवं शिलान्यास किया गया। स्टेडियम परिसर में आयोजित कार्यक्रम में उपस्थित जनसमुदाय, खेल प्रेमियों तथा वन्यजीव पे्रमियों को सम्बोधित करते हुये मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि कुमाऊ के प्रवेश द्वार में नवनिर्मित अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम और बनने वाला प्राणी उद्यान प्रदेश वासियों के लिये नववर्ष की अनुपम सौगात है। उन्होने कहा कि वर्ष 2018 में प्रदेश में राष्ट्रीय खेलों का आयोजन होगा ऐसे में सरकार द्वारा खेल अवस्थापनायें सुविधायें मजबूत एवं विकसित की है। इसी कडी में पौडी, देहरादून और हल्द्वानी के भव्य स्टेेडियम राष्ट्रीय खेलो के लिए मील का पत्थर साबित होंगे । उन्होंनें कहा कि 2018 में आयोजित होने वाले राष्ट्रीय खेलों की मेजबानी के लिए उत्तराखण्ड तैयार है। खेल गांव स्थापित करने का कार्य तेजी से चल रहा है। खिलाडियों को खेल की मुख्य धारा में जोडने तथा खिलाडियों में खेल के प्रति रूझान पैदा किये जाने की दृष्टि से खिलाडियों को पदक अर्जित करने पर नकद पुरस्कार स्वरूप प्रदान की जाने वाली राशि में वृद्धि भी की गयी है। खेलों में विकास हेतु सभी जनपदों में स्थानीय प्रशिक्षण शिविर एवं जिला एवं राज्य स्तरीय प्रतियोगिताएं आयोजित कराकर राज्य के अधिक से अधिक खिलाडियों को खेल की मुख्य धारा से जोडने का प्रयास जारी है। श्री रावत ने गौला नदी के सौन्दर्यीकरण के लिए रीवर डवलपमैन्ट फण्ड की घोषणा की और सिंचाई मंत्री यशपाल आर्य से कहा कि वह इसका तत्काल प्रस्ताव बनाकर अनुमोदन हेतु प्रस्तुत करें। श्री रावत ने कहा कि विकास हमारी संस्कृति एवं परम्परा है। इसी उददेश्य को लेकर हम आगे बढ रहे है। प्रदेश का कोई भी कोना ऐसा नही है जहां विकास की किरणें ना पहुची हों। सत्त विकास यात्रा के माध्यम से समाज के हर वर्ग को हमने विकास की धारा से जोडने का काम किया है। इसी श्रृखंला में प्रदेश में पर्यटन विकास एवं मनोरंजन के दृष्टिकोण से हल्द्वानी में अन्तर्राष्ट्रीय प्राणी उद्यान का शिलान्यास किया गया है, जो आने वाले समय में मील का पत्थर साबित होगा। प्रदेश में कार्बेट, व राजाजी पार्क के बाद हल्द्वानी का चिडियाघर भी विश्वस्तर पर अपनी पहचान बनायेगा, क्योंकि इस चिडियाघर में विश्वस्तर के वन्यजीव व आधुनिकतम सुविधाएं होंगी। अपने सम्बोधन में वित्तमंत्री डा0 श्रीमती इन्दिरा हृदयेश ने कहा कि गेटवे कुमायू हल्द्वानी कस्बे से महानगर की ओर तेजी से विकसित हुआ है। बदलते दौर में लोगो की आवश्यकतायें और उनके जीवन के स्तर में काफी बदलाव आये है। खेल हमारे जीवन का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है। लोगो में खेलो के प्रति रूचि पैदा करने तथा प्रदेश में खेल का वातावरण बनाने व राष्ट्रीय खेलो के आयोजन के लिए प्रदेश सरकार द्वारा विकास कार्यो के साथ ही खेल सुविधाओ को बढाने का कार्य भी किया गया है। शहरों में भव्य अन्तर्राष्ट्रीय स्टेडियमों में होने वाले मैचों मे आने वाले खिलाडियो से प्रदेश के खिलाडियों का आपस में संवाद एवं मिलन होगा, और इससे खेल संस्कृति और भी मजबूत होगी। उन्होने कहा कि आज अन्तर्राष्ट्रीय प्राणी उद्यान का शिलान्यास होने से प्रदेश के विकास के इतिहास मे एक नयां अध्याय जुड गया है। लगभग सौ करोड की लागत से बनने वाले प्राणी उद्यान में विश्व स्तरीय वन्यजीव जन्तुओं के अलावा सफारी की व्यवस्था होगी। डा0 हृदयेश ने बताया जिसमें टाइगर, लेपर्ड, लायन,सफारी, अफी्रकन सफारी, आस्ट्रेलियन, यूरोपियन तथा अमेरिकन वन्य जीव जोन्स, आधुनिक वन्य जीव चिकित्सालय, जैव विविधता पार्क, मोनो रेल, टाॅय रेल, चिल्ड्रन पार्क के साथ ही ईको कैफेटेरिया बनाया जायेगा। उन्होने कहा कि पर्यटकों को बख्तर बन्द वाहनों में सफारी करायी जायेगी। उन्होने कहा कि यह प्रदेश का पहला प्राणी उद्यान होगा जिसमें विण्ड एनर्जी पावर स्टेशन स्थापित किया जा रहा है। अपने सम्बोधन में खेल मंत्री दिनेश अग्रवाल ने कहा कि राज्य में राज्य में खेल तन्त्र विकसित किया जा रहा है। पहली बार राज्य की खेल नीति तैयार की गयी है। रियों ओलम्पिक मे उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले मनीष रावत को राज्य पुलिस में इन्सपेक्टर के पद पर नियुक्ति इसी नीति के तहत दी गयी है। अन्तराष्ट्रीय व राष्टीय स्तर पर श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले विशिष्ट खिलाडियो के सेवायोजन के लिए विशेष प्राविधान किया गया है। महाराणा प्रताप स्र्पोटर्स स्टेडियम में एथलैक्सि ट्रैक व हाॅकी सैन्थिैटिक खेल मैदान का निर्णय लिया गया है। उन्होने देहरादून व हल्द्वानी में बने अन्तर्राष्ट्रीय स्टेडियमों के लोकार्पण पर खेल प्रेमियों एवं प्रदेशवासियो को शुभकामनायें दी। अपने सम्बोधन में सिचांई एवं राजस्व मंत्री यशपाल आर्य ने कहा कि प्रदेश में प्रतिभाओं की कमी नहीं है। संस्कृति कला के अलावा खेल जगत में प्रदेश के कई उदयमान खिलाडियों ने नाम रोशन किया है। खेल प्रतिभाओं को आधुनिकतम खेल सुविधाएं दिये जाने की दिशा में प्रदेश सरकार ने युद्धस्तर पर कार्य किया है, जिसका नतीजा है कि हमारे प्रदेश में विश्वस्तर के स्टेडियम स्थापित हो चुके हैं और हम राष्ट्रीय खेलों के लिए तैयार हैं। अपने सम्बोधन में जनपद के प्रभारी एवं ग्राम्य विकास, पंचायतीराज मंत्री प्रीतम सिंह ने शुभकामनाएं देते हुए कहा कि प्रदेश में स्थापित हुए खिलाडियों एवं युवाओं में विशेष उत्साह है। इससे उनको अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करने के साथ ही विभिन्न खेल विद्याओं का विकास करने में आसानी होगी। अपने सम्बोधन में श्रम मंत्री हरीशचन्द्र दुर्गापाल ने कहा कि प्रदेश का हर जन विकास की किरणों से ओतप्रोत है। उन्होनें कहा कि प्रदेश में सड़क, बिजली, पानी, चिकित्सा, शिक्षा क्षेत्र में विकास के नये ध्वज स्थापित किये गये हैं। लेकिन प्रदेश के खिलाडियों एवं युवा खिलाडियों के लिए इस प्रकार के आधुनिक स्टेडियम अनुपम भेट हैं। उन्होनें कहा कि हल्द्वानी व लालकुंआ विधानसभा के संगम पर स्थापित गौलापार का पिछडा क्षेत्र विकास के मैगा प्रोजेक्टों से आच्छादित हो गया है, जिससे गौलापार में पर्यटन बढेगा और क्षेत्रवासियों को स्वरोजगार मिलेगा जिससे उनकी की आर्थिक उन्नति होगी। कार्यक्रम में भारतीय ओलम्पिक संघ महासचिव राजीव मेहता, मुख्यमंत्री सलाहकार प्रयागदत्त भट्ट, अध्यक्ष जिला पंचायत सुमित्रा प्रसाद, अध्यक्ष नगर पालिका रामनगर हाजी अकरम, पूर्व मंत्री तिलकराज बेहड, उपाध्यक्ष हुनर परिषद् मतीन सिद्दकी, ब्लाॅक प्रमुख भोलादत्त भट्ट, सतीश नैनवाल, दिनेश कुंजवाल, सुमित हृदयेश, खजान पाण्डे, पूर्व सांसद डा0 महेन्द्र सिंह पाल, जया बिष्ट, हेमन्त बगडवाल, हुक्मसिंह कुंवर, दीपक बलुटिया, हरीश बिष्ट, राजेन्द्र सिंह नेगी, केदार पलडिया, सलीम अंसारी, हेमवती नन्दन दुर्गापाल, हरीश मेहता, एनवी गुणवन्त, रेणु जोशी, राहुल छिमवाल, पुष्पा संभल, रामसिंह कैडा, गणेश उपाध्याय, मोहनगिरी गोस्वामी, बालम सिंह बिष्ट, भावना सती, हरेन्द्र वोरा, पुष्कर मेहरा, जगमोहन चिलवाल, तारा नेगी, भय्यू बैलवाल, जया कर्नाटक, विजय सिजवाली के अलावा सचिव खेल शैलेश बगौली, जिलाधिकारी दीपक रावत, एसएसपी जन्मेजय खंडूरी, मुख्य विकास अधिकारी प्रकाशचन्द्र सहित अनेक गणमान्य, खिलाडी एवं जनसमूह मौजूद थे।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments