सड़क एक्सीडेंट को लेकर मुख्यमंत्री ने दिए निर्देश 

0
302

 देहरादून मुख्यमंत्री  त्रिवेंद्र सिंह रावत ने प्रदेश में हाल ही में हुई सड़क दुर्घटनाओं पर चिन्ता व्यक्त करते हुए इस सम्बंध में पुलिस एवं परिवहन विभाग के अधिकारियों से प्रभावी कार्यवाही सुनिश्चित करने को कहा है। 

गुरूवार को मुख्यमंत्री आवास कार्यालय में परिवहन एवं पुलिस विभाग के अधिकारियों की बैठक में मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र ने निर्देश दिये कि सड़क दुर्घटनाओं की रोकथाम के लिये सम्बंधित विभाग आपसी समन्वय से कार्य करें तथा बढती सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिये कारगर प्रयास सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिये जो भी कार्ययोजना बनायी जाती हो, उस पर अविलम्ब कार्यवाही की जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि यदि आवश्यक हुआ तो रोड़ सेफ्टी फंड से परिवहन विभाग को और अधिक धनराशि उपलब्ध करायी जायेगी, ताकि वाहनों की चेकिंग आदि के लिये आवश्यक संसाधनों की कमी न रहें। उन्होंने निर्देश दिये कि सभी बैरियरों पर वाहनों की प्राॅपर चेकिंग की जाए। ओवर लोडिंग को सख्ती से रोका जाए। ड्राइवर शराब पीकर वाहन न चलायें। ड्राइवर की बगल वाली सीट पर एक से अधिक व्यक्तियों को बैठने से रोका जाए। यदि पुलिस व परिवहन विभाग आपसी तालमेल से इस दिशा में प्रभावी पहल करेगी, तो निश्चित रूप से दुर्घटनाओं में कमी आयेगी। उन्होंने यातायात नियमों का पालन करने के लिये भी जनजागरण के प्रति विशेष ध्यान देने को कहा है। उन्होंने कहा कि वे शीघ्र ही सभी जनपदों के जिलाधिकारियों एवं पुलिस अधीक्षकों के साथ रोड सेफ्टी के सम्बंध में की जा रही कार्यवाही के संबंध में वीडियोकांफ्रेंसिंग भी करेंगे।

 मुख्यमंत्री ने सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिये जनता एवं अधिकारियों से इस संबंध में अपने-अपने सुझावों से अवगत कराने की भी बात कही है। यातायात नियमों के अनुपालन के अलावा ओवरलोडिंग को रोकने में भी पुलिस को जिम्मेदारी दी जाए। शहरों में ट्रेफिक सुधारों के प्रति भी विशेष ध्यान दिये जाने के निर्देश मुख्यमंत्री ने दिये है। इसके साथ ही सैटेलाइट बेस चालान क्रासिंगो पर ट्रेफिक के दबाव को कम करने आदि की दिशा में भी अन्य राज्यो की भांति यहां भी सम्भावनायें तलाशी जाए। राज्य में सड़क दुर्घटनाएं कम से कम हो तथा शहरों को ट्रेफिक जाम से निजात मिल सकें, यह हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता होनी चाहिए। उन्होंने युवाओं को यातायात नियमों के प्रति जागरूक करने की भी बात कही। 

बैठक में सचिव परिवहन श्री डी.सेंथिल पाण्डियन, अपर सचिव श्री चन्द्रेश कुमार, निदेशक ट्रेफिक श्री केवल खुराना, निदेशक आई.टी.डी.ए. श्री अमित सिन्हा आदि उपस्थित थे। 
देहरादून 08 फरवरी, 2018(सू.ब्यूरो)

प्रेस नोट-04(02/23)

पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री, भारत सरकार डाॅ.हर्ष वर्धन ने मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को पत्र के माध्यम से अवगत कराया है कि पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय द्वारा देहरादून स्थित केन्द्रीय विद्यालय, वन अनुसंधान संस्थान का बजट पूर्व की भाँति उपलब्ध कराया जाएगा।

उन्होंने कहा कि आई.सी.एफ.आर.आई, देहरादून पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय का स्वायत्त निकाय है, जिसके अंतर्गत केन्द्रीय विद्यालय, वन अनुसंधान संस्थान, देहरादून एवं केन्द्रीय विद्यालय, टी.एफ.आर.आई., जबलपुर आते हैं। जब तक इन दोनों विद्यालयों का विलय मानव संसाधन विकास मंत्रालय में नहीं हो जाता तब तक पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय इन दोनों केन्द्रीय विद्यालयों को बजट उपलब्ध कराता रहेगा।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।