गुजरात चुनाव के लिए कांग्रेस का घोषणापत्र

0
35
गुजरात चुनाव के लिए कांग्रेस का घोषणापत्र:

ghoshna ptr

गुजरात चुनाव में आ रहे इस जलजले को रोकना नामुमकिन सा प्रतीत होता जा रहा है. एक तरफ राहुल गाँधी के पुरजोर हथकंडे तो दूसरी तरफ मोदी लहर अपने आप में एक द्वंद्व युद्ध का रूप ले चुकी है. राहुल गाँधी के अध्यक्षता को लेकर भरे जा चुके नॉमिनेशन की खबरे जितना दम्भ भर्ती दिख रही हैं उतनी ही उत्सुकता यह जानने की भी बनती जा रही है कि नेताओ द्वारा किये गए ये वादे वादे और जनता को लोकलुभावन करने वाली सब बाते आखिरकार किसके पक्ष में कामयाब होंगी.

वही कांग्रेस ने गुजरात के लिए घोषणापत्र जारी कर दिया है. 100 पन्नों के इस मेनिफेस्टो में कांग्रेस ने गुजरात की जनता से कई बड़े वादे किए हैं. इसमें पेट्रोल का दाम 10 रुपये तक सस्ता करने से लेकर किसानों का लोन माफ तक जैसे लुभावने वादे हैं. कांग्रेस ने अपने घोषणापत्र में गुजरात की जनता से पेट्रोल-डीजल के दाम 10 रुपए तक कम करने का वादा किया है. पार्टी का कहना है कि पेट्रोल-डीजल के दाम में वैट को 10 रुपये तक सस्ता कर दिया जाएगा. इसके अलावा पार्टी ने कहा है कि अगर उनकी सरकार बनी तो वे राज्य में बिजली का बिल आधा कर देंगे.

कांग्रेस ने समाजवादी पार्टी की तर्ज पर गुजरात के युवाओं से वादा किया है कि सत्ता में आने पर वे हायर एजुकेशन के छात्रों को स्मार्ट फोन और लैपटॉप बांटेंगे. 32 हजार करोड़ रुपये से 25 लाख युवाओं को रोजगार देंगे. इसके अलावा कांग्रेस ने सरदार पटेल यूनिवर्सल हेल्थ केयर कार्ड का ऐलान किया है, जिसमें गरीब जनता को सस्ती दवाएं उपलब्ध कराई जाएंगी.

पार्टी ने कहा है कि सरकार बनने पर एमएसपी का ऐलान बुवाई से पहले ही कर दिया जाएगा. किसानों का लोन माफ किया जाएगा. किसानों को प्राथमिकता के आधार पर बिजली दी जाएगी, जैसा कि इस समय प्राइवेट इंडस्ट्रीज को दी जा रही है.

इस दौरान कहा गया कि कांग्रेस ने अपने घर का जो वादा किया था, उसे बीजेपी ने चुरा लिया. बीजेपी ने 20 लाख घर का वादा किया था, लेकिन अब तक वे सिर्फ चार लाख घर ही बना सकी. 25 लाख एलआईजी और एमआईजी घर बनाए जाएंगे जो गरीब तबकों को वाजिब दामों में दिए जाएंगे. लघु और मझोले उद्योगों को जीएसटी के दायरे से बाहर रखा जाएगा. गरीब तबके के बच्चों तक शिक्षा पहुंचाने के लिए स्कूलों को सहायता दी जाएगी. राज्य में खेल को बढ़ावा देते हुए खिलाड़ियों का सम्मान किया जाएगा.

गुजरात कांग्रेस अध्यक्ष भरतसिंह सोलंकी ने कहा कि पाटीदार और गैर आरक्षित लोगों के लिये शिक्षा और रोजगार के समान अधिकार दिए जाएंगे. कांग्रेस ने पाटीदारों को SC/ST/OBC के 49 प्रतिशत को छुए बिना आर्टिकल 31 (सी) को ध्यान में रखते हुए संविधान के आर्टिकल 46 के तहत आरक्षण का बिल लाया जाएगा. आर्टिकल 46 के तहत जो कहा गया है, उसके मुताबिक़ 15(4) और 16(4) के तहत जिसे इसका फ़ायदा नहीं मिलता, ऐसे समाज के लोगों के लिये शिक्षा और आर्थिक फ़ायदा मिले इसके लिये ख़ास आयोग बनाया जायेगा. साथ ही आर्थिक तौर पर पिछड़े लोगों के लिये एक ख़ास आयोग के जरिए मदद की जाएगी.

कांग्रेस का कहना है कि उनकी कमेटी अगस्त से ही घोषणापत्र तैयार कर रही थी. मधुसूदन मिस्त्री इस कमेटी के चेयरमैन हैं, जबकि सैम पित्रौदा और दीपक बाबरिया इस कमेटी के सदस्य हैं. ये लोकलुभावने वादे जनता को कितना अपने खाके में उतार पाते हैं ये तो आने वाला वक़्त ही बतायेगा. फिलहाल up निकाय चुनाब में भाजपा को जिस तरह जीत हासिल हुई उसे देखकर यही लगता है कि मोदी सरकार के किये गए फेसलो को जनता ने सर आँखों लिया है.

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments